घुटनों के दर्द में बबूल की फली के फायदे और लोगो के अनुभव

बबूल की फली का चूर्ण के फायदे || घुटनों के दर्द में बबूल की फली और लोगो के अनुभव

घुटनों का दर्द आज एक आम समस्या बन गई है | एक आयु के बाद शरीर के जोड़ों में लुब्रीकेन्टस एवं केल्शियम बनना कम हो जातां है. जिससे कारण जोड़ों का दर्द, गैप, केल्शियम की कमी, वगैरा प्रोब्लेम्स सामने आती है |

यह प्रॉब्लम पहले सिर्फ बड़ी उम्र के व्यक्तियों को ही होती थी मगर आजकल गलत खान-पान और गलत रहन सहन के कारण छोटे बच्चे व जवान भी घुटनों का दर्द से परेशान रहते है | जिसके चलते आधुनिक चिकित्सा आपको जोइन्ट रिप्लेस करने की सलाह देते है | घुटनों के दर्द में बबूल की फली का चूर्ण के फायदे जानकर और उसका इस्तेमाल करके ऐसी नौबत से बचा सकता है |

Table of Contents

बबूल की फली का चूर्ण के फायदे

यहां पर हम आपको बताने जा रहे हैं कि चार अलग-अलग लोगो के अनुभव जिन्हें घुटनों का दर्द, सूजन और शरीर में दर्द की परेशानी थी उन पर बबूल (कीकर) की फली के पाउडर लेने का क्या प्रभाव पड़ा ? यहां पर हम उनके द्वारा बताये गए उनके अनुभव आपसे शेयर कर रहे है | आइए जानते हैं बबूल की फली का चूर्ण के फायदे और उनके घुटनों का दर्द पर क्या प्रभाव पड़ा और उनके अनुभव

बबूल की फली का चूर्ण के फायदे और उनके घुटनों के दर्द पर बबूल की फली के चूर्ण का प्रभाव

पहला मरीज़ : एक बुजुर्ग महिला

एक बुजुर्ग महिला जिनकी उम्र 75 से 80 वर्ष है जो पिछले पिछले 20-22 सालों से घुटनों के दर्द से परेशान थी | बबूल की फली का चूर्ण के फायदे जानकर उन्होंने कीकर की फली का पाउडर एक चौथाई चम्मच एक करीब दोपहर और रात तो खाना खाने के आधे-1 घंटे बाद पानी के साथ लेना शुरू किया |

1-2 दिन ही लेने के बाद उन्हें घुटनों के दर्द में आराम महसूस होना शुरू हो गया जो की महंगी से महंगी गरम दवाइयां लेने के बाद भी आराम नहीं आ रहा था |

दूसरा मरीज़ : मोटापे से परेशान एक व्यक्ति –

एक आदमी जो अपने बढ़े हुए वजन की वजह से घुटनों के दर्द से परेशान थे और कई अंग्रेजी और देसी दवाइयां इस्तेमाल कर चुके थे | यहां तक की उनके घुटने कड-कड की आवाज़ करते थे और उनका दर्द असहनीय हो गया था ,उन्हें भी कीकर की फली के पाउडर की 1-2 दिन के इस्तेमाल से घुटनों के दर्द में आराम आ गया | तक़रीबन 1 साल हो गया है उन्हें दुबारा घुटनो का दर्द नहीं हुआ है |

मोटापे (Obesity) से है बचना तो इन 5 सफेद चीजों से दूर रहना !

तीसरा मरीज़ : एक औरत –

एक औरत जो हाथ पैरों की सूजन और शरीर तथा घुटनों के दर्द से परेशान थी | उन्हें भी कीकर की फली के इस प्रयोग के दो ही दिन के इस्तेमाल से हाथ पैरों की सूजन भी खत्म हो गई और शरीर तथा घुटनों के दर्द भी गायब हो गए | उन्होंने कीकर की फली का यह प्रयोग 10-12 दिन तक किया | तक़रीबन 6 माह हो गए है उन्हें दुबारा घुटनो का दर्द नहीं हुआ है |

चौथा मरीज़ : अन्य महिला –

एक अन्य महिला जिन्होंने कीकर की फली पंसारी या आयुर्वेदिक औषधियों रखने वाली दुकान से ली थी | मगर बारिशो के दिन होने के कारण उनमे कीड़े पड़ गए थे | साफ की हुई फली का पाउडर 1-2 दिन लेने के बाद ही उन्हें घुटनो के दर्द में आराम आ गया है |

इन चारों के अनुभव जानने के बाद यही निष्कर्ष निकल कर सामने आया कि बबूल कीकर की फली का पाउडर पुराने से पुराना घुटनों के दर्द में आराम तो दिलाता है मगर इसको लेते हुए अपने शरीर पर होने वाले अच्छे-बुरे प्रभावों को ध्यान में रखें और कोई भी स्वास्थ्य संबंधी तकलीफ़ होने पर तुरंत इसका सेवन बंद कर दें |

बबूल की फली आसानी से मिल जाती है, ऐसे में आपको बताते है बबूल की फली का चूर्ण बनाने की विधि।

बबूल की फली का चूर्ण बनाने की विधि | Babul ki fali ka churan bnane ki vidhi

  1. बबूल की ताजी निकली हुई कच्ची फली को इकठ्ठा कर ले। बबूल की फली जितनी ज्यादा कच्ची होंगी उतनी ही फायदेमंद होंगी।
  2. बबूल की बिना बीज वाली कच्ची फली का ही चूर्ण बनाने के लिए इन फलियों को छाया में सूखा ले। छाया में सूखने के लिए इन फलियों को ८ से १२ दिन तक लग सकते है।
  3. जब से फलिया अच्छे से सूख जाये तो इन्हे छोटे-२ टुकड़ो में तोड़ ले। टुकड़े इतने छोटे हो की आसानी से मिक्सी के जार में आ जाये।
  4. मिक्सी में इन्हे बारीक़ पीस कर छान ले।
  5. इन्हे छानने के बाद मोटे दानो को दुबारा पीस ले।
  6. बबूल की फली का चूर्ण तैयार है, इसे किसी एयर टाइट शीशी में भरकर रख ले और आवश्यकता पड़ने पर इस्तेमाल करे।

बबूल की फली का सेवन कैसे करें

चारो मरीजों ने बबूल (कीकर ) की फली का पाउडर आधा चम्मच दोपहर और रात को खाना खाने के आधे-1 घंटे बाद पानी के साथ लेना शुरू किया |

हम उम्मीद करते है की बबूल की फली का चूर्ण के फायदे, बबूल की फली का चूर्ण बनाने की विधि (Babul ki fali ka churan bnane ki vidhi), बबूल की फली का सेवन कैसे करें, विषयो पर दी गई यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद रहेगी।

Our YouTube Channel is → A and N Health Tips
https://www.youtube.com/channel/UCeLxNLa5_FnnMlpqZVIgnQA/videos

Join Our Facebook Group:- Ayurveda & Natural Health Care in Hindi —-
https://www.facebook.com/groups/1605667679726823/

DMCA.com Protection Status