मूली कब खाने पर सबसे ज्यादा फायदा करती है ?

मूली खाने का सही समय कौन सा होता है ?

मूली हमारे खाने का एक अहम हिस्सा है | मूली विटामिन और मिनरल्स से भरपूर होती है जो कि अगर सही वक्त पर खाई जाए तो यह शरीर की पाचन संबंधी सभी बीमारियों का नाश कर देती है |

मूली में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, पोटेशियम और थोड़ी मात्रा में तांबा भी पाया जाता है | यह विटामिन ‘ए’ और विटामिन ‘सी’ का एक अच्छा स्रोत है |

मूली खाने का समय || मुली खाने का समय

मूली का उपयोग प्राचीन काल से होता रहा है | इसके अत्यंत प्रसिद्ध होने का कारण है इसकी रोगो को दूर करने के क्षमता | यह जठराग्नि का मंद होना, खाने में अरुचि, पुरानी कब्ज, बवासीर, अफारा, स्त्रियों की मासिक स्राव में पीड़ा होना, पेशाब के रोग, किडनी और गाल ब्लैडर स्टोन, हिचकी, सूजन आदि सभी रोगों में लाभदायक होती है |

मूली खाने का समय || मुली खाने का समय

खाली पेट मूली खाने से छाती में जलन पैदा हो सकती है और पित्त उत्तेजित हो सकता है क्योंकि मूली को पचाने के लिए शरीर को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है और यह विलम्ब से पचती है | इसीलिए मूली खाने का सबसे सही वक्त क्या होता है ? यह जानना अति आवश्यक है |

सही वक्त पर मूली का सेवन किया जाए तो वह खाने में अरुचि, एसिडिटी, गैस आदि पाचन संबंधी बीमारियों को दूर करती है | मूली खाने का सबसे सही वक्त होता है सर्दियों के दिनों में और धूप के वक्त ही खानी चाहिए।

बेहतर लाभ के लिए भोजन के मध्य में ही खाये क्योंकि खाना खाने के दौरान खाई गई मूली भारी से भारी भोजन को पचाने की क्षमता पैदा करती है और गरिष्ठ से गरिष्ठ भोजन को पचाने में सहायक होती है | इसी कारण से प्राचीन काल से ही मूली को सलाद के रूप में भोजन के साथ खाने का प्रावधान है |

दोस्तों, अगर आपको मेरे द्वारा दी गई मूली खाने का समय || मुली खाने का समय पर दी गई जानकारी पसंद आती है तो कृपया इसे अन्य लोगों के साथ भी शेयर कीजिए और अपने सुझाव भी हमारे साथ जरूर शेयर कीजिए |

धन्यवाद

खाना खाने के बाद लहसुन खाने के फायदे

खाना खाने के 3 नियम और यह नियम कैसे कार्य करते है ?

Leave a Comment