शुगर में क्या क्या परहेज करना चाहिए | शुगर में परहेज

आज के समय में कौन सी बीमारी आपको कब अपना शिकार बना लेगी आपको पता भीं नहीं चलेगा। डायबिटीज (मधुमेह) चुपके-2 आती है और आपको अपना शिकार बना लेती है। शुगर होने के लक्षण तो नजर आते है लेकिन वो इतने हल्के होते है की इस भागदौड़ भरी जिन्दगी में हम उनपर ध्यान भी नहीं दे पाते। डायबिटीज होने का मुख्य कारण होता है गलत जीवनशैली और गलत खानपान। अपने खानपान और जीनवशैली पर नियंत्रण पा कर आप शुगर को जड़ से मिटा सकते है। ऐसे में सवाल उठता है की शुगर में परहेज क्या करना चाहिए ? शुगर में क्या क्या परहेज करना चाहिए ?

शुगर के रोगी अपने खानपान पर नियंत्रण पा कर और परहेज करके अपने शुगर लेवल को नियंत्रण में रख सकते है। बल्कि आप यह भी कह सकते है की आप अगर अपनी शुगर की बीमारी पर नियंत्रण पाना चाहते है तो उसका सबसे बेहतरीन उपाय परहेज है। अपने खानपान में कुछ फल, सब्जियों, अनाज और आहार का परहेज करके आप अपने ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ने से रोक सकते है जैसे आलू, शकरकंद, कटहल, चुकंदर जैसी सब्जिया, आम, अंगूर, खजूर, केला, मीठे फल और मैदा, सफेद चावल, चोकर निकला हुआ आटा आदि ।

महिलाओं में शुगर के लक्षण क्या क्या होते है ?

शुगर में परहेज क्यों है इतना जरुरी ?

इस सवाल का जवाब जानने से पहले आपको जानना पड़ेगा की शुगर की बीमारी क्यों होती है ? और डायबिटीज क्या है ?

शुगर में क्या क्या परहेज करना चाहिए

शुगर यानि मधुमेह रोग क्या है ?

आप जो कुछ भी खाते हैं उससे शरीर को एनर्जी देने वाले शुगर यानि ग्लूकोज का निर्माण होता है। इस ग्लूकोस को खून के माध्यम से शरीर के प्रत्येक अंग तक पहुंचाने और ग्लूकोस को एनर्जी में परिवर्तित करने का कार्य इन्सुलिन नामक हार्मोन के द्वारा किया जाता है ताकि शरीर की कोशिकाओं तक यह ग्लूकोस पहुंचे और वह एनर्जी के रूप में इसका इस्तेमाल कर पाए।

इन्सुलिन का निर्माण या स्राव करने का कार्य हमारे शरीर के एक अंग अग्नाशय द्वारा जरुरत के हिसाब से किया जाता है। ताकि हमारे शरीर का कार्य सुचारु रूप से चलता रहे।

शरीर में इन्सुलिन के कम बनने या इन्सुलिन प्रतिरोध पैदा होने के कारण इन्सुलिन अपना कार्य सही से नहीं कर पाता और खून में ग्लूकोस यानि शुगर की मात्रा अनियंत्रित हो कर बढ़ जाती है तो शुगर यानि मधुमेह रोग हो जाता है।

जिसकी वजह से खून में ग्लूकोस की मात्रा बढ़ती जाती है और यह पेशाब के माध्यम से भी शरीर से बाहर निकलने लगता है। इन्सुलिन के सही से कार्य न कर पाने की वजह से शरीर में एनर्जी की कमी हो जाती है और शरीर रोगो का घर बन जाता है।

बाजरा खाये शुगर को दूर भगाये

शुगर में परहेज क्यों है जरुरी ?

खाने पीने की कुछ वस्तुऐं हमारे शरीर में ग्लूकोस के स्तर को बहुत तेजी से बढ़ा देती है और कुछ धीरे-2 | ऊपर आप जान ही चुके है की डायबिटीज की बीमारी खून में ग्लूकोस की मात्रा को नियंत्रण में ना ला पाने के कारण होती है यानि इन्सुलिन की सही से कार्य न करने के कारण।

अगर आप अपने खानपान में ऐसे वस्तुओ का परहेज करे जो खून में ग्लूकोस को बहुत तेजी से बढ़ाती है तो आप अपनी डायबिटीज यानि शुगर पर नियंत्रण पा सकते है।

शुगर है तो भूलकर भी न खाएं ये फल

शुगर में क्या क्या परहेज करना चाहिए ?

आइये जानते है शुगर में क्या क्या परहेज करना चाहिए या किन वस्तुओ का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए ?

  • शुगर के लक्षणों का पता चलते ही सबसे पहले मीठी चीज़ें जैसे – मीठी चाय, मीठा दूध, जूस, चीनी, गुड़, गन्ना, गन्ने का रस, चॉकलेट, आइसक्रीम, मिठाई, शहद, केक, शक्कर का सेवन करना तुरंत बंद कर दें |
  • सबसे बेहतर होगा की अगर आप चाय पीते है तो चाय के साथ कुछ भी न ले और अगर कण्ट्रोल में है तो फीके वाले बिस्किट या नमक वाले बिस्किट खाये जा सकते है।
  • जहां तक हो सके हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स ( High G.I. ) वाली वस्तुओ का सेवन बंद कर दे | हाई ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली वस्तुऐं बहुत जल्दी ग्लूकोज में बदल जाती हैं और खून में शुगर की मात्रा बहुत अधिक बढ़ा देती हैं। इसमें मैदा से बनी चीज़ें, नूडल्स, पिज्जा, सफेद चावल, अंगूर प्रमुख हैं।
  • फलो का जूस पीने की बजाय सीधा फल ही खाये क्योकि फलो में फाइबर होता है जो शुगर के मरीज के लिए फायदेमंद होता है।
  • कोल्डड्रिंक और डब्बा बंद जूस में तो शुगर दबा के भरी हुई होती है और यह शुगर के मरीज के लिए जहर के समान होते है।
  • ब्रेड का सेवन बंद कर दे क्योकि यह मैदे से बने होते है। आप चाहें तो आते वाली ब्रेड का सेवन कम मात्रा में कर सकते है।
  • बाजार की तली हुई वस्तुऐं जैसे स्प्रिंग रोल, फ्राइड मोमोस, समोसा, पकौड़े, पूड़ी, पराठे, कचौरी इनके सेवन से बचे क्योकि ये सभी चीजें कोलस्ट्रोल को बढ़ा कर दिल की बीमारी का कारण बन सकती है।
  • ऐसी सब्जियों का सेवन अधिक मात्रा में करे जिनमे शुगर और कार्बोहाइड्रेट कम मात्रा में होते है | आलू, चुकंदर, अरबी, शकरकंद, कटहल आदि में कार्बोहाइड्रेट बहुत ज्यादा होता है इसलिए शुगर के मरीज द्वारा इनको कम मात्रा में उपयोग में लाना चाहिए
  • नमक ब्लड प्रेशर को बढ़ा देता है और शुगर के मरीजों के पैरों में सूजन का कारन बन सकता है।
  • उपवास शरीर से विषाक्त पदार्थो को बाहर निकालने का प्राकृतिक तरीका है लेकिन शुगर के मरीजों को इससे बचना चाहिए। ब्लड शुगर का स्तर ज्यादा होना तो खतरनाक है लेकिन उससे भी अधिक खतरनाक शुगर लेवल कम होना होता है और उपवास से शुगर का लेवल बेहद नीचे गिर सकता है इसलिए इससे बचे।
  • अगर चावल खाने की शौकीन है तो ब्राउन राईस खाइये और चावल पकाते समय उसका माढ ना निकालें
  • आयुर्वेदा के अनुसार मैदे में शरीर के लिए आवशयक कोई भी पोषक तत्व नहीं होता इसलिए मैदे के इस्तेमाल से बनी डबल रोटी, तंदूरी रोटी, मैगी, पास्ता, पेस्ट्री, कुलचे आदि का सेवन करने से शुगर में नुकसान हो सकता है इसलिए शुगर के मरीज इनका परहेज करे |
  • बाजार में बिकने वाले टमाटर की सॉस, मीठी दही, ज्यादा चाशनी में बनी चीजें, डब्बाबंद फ्रूट्स, पोपकोर्न, अचार, वसायुक्त पनीर, मुरब्बा, पेठे की मिठाई, च्विंगम, मिठाइयाँ, बर्गर, क्रीम रोल, मिश्री आदि का शुगर में परहेज करे।
  • शराब, सिगरेट, तम्बाकू और अन्य मादक पदार्थ शुगर के मरीज को कई अन्य तरीको से नुकसान पंहुचा सकते है इसलिए इनका सेवन ना करें तो बेहतर होगा।
  • फलों में चीकू, केला, अनानास, सिघाड़ा, तरबूज, आम, लीची, अंगूर के सेवन से ब्लड शुगर तेजी से बढ़ सकता है इसलिए इनका शुगर में परहेज करे।
  • किसमिस, मिश्री, चाउमीन, और बाजार में मिलने वाली वस्तुओ से परहेज करना चाहिए क्योकि उन्हें जीभ के लिए स्वादिष्ट बनाने के चक्कर में उनमे बहुत से ऐसे पदार्थ मिला दिए जाते है जो शुगर के मरीज को नुकसान पंहुचा सकते है।
  • एक बार में अधिक मात्रा में भोजन खाने से भी परहेज करे। उसके स्थान पर हर 3 घंटे के बाद थोड़ी-2 मात्रा में भोजन का सेवन करे।
  • रात के भोजन के तुरंत बाद सोने से भी परहेज करे। उसके स्थान पर रात को सोने से कम से कम २ घंटे पहले अपना डिनर खत्म कर ले।
Disclaimer

शुगर में क्या क्या खायें ?

शुगर के मरीजों के लिए सिमित मात्रा में खाई गई कच्ची सब्जिया और फल फायदेमंद होती हैं लेकिन तभी जब यह सिमित मात्रा में खाई जाये । कुछ फल व सब्जिया जो ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित रखती है , वे है खीरा, टमाटर, मूली, पपीता, नाशपाती, तरबूज, सेब, संतरा, नींबू जिन्हे अपने भोजन में सलाद के रूप में नियमित शामिल करना चाहिए।

शुगर में नींबू खाना चाहिए या नहीं ?

जी हां, अगर आपको शुगर की बीमारी है तो आप नींबू खा सकते हैं। वास्तव में, अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन (एडीए) नींबू को मधुमेह में फायदेमंद सुपरफूड के रूप में सूचीबद्ध करता है।

शुगर में कौन सी सब्जी नहीं खानी चाहिए?

  • ऐसी सब्जियों का सेवन अधिक मात्रा में करे जिनमे शुगर और कार्बोहाइड्रेट कम मात्रा में होते है | आलू, चुकंदर, अरबी, शकरकंद, कटहल आदि में कार्बोहाइड्रेट बहुत ज्यादा होता है इसलिए शुगर के मरीज द्वारा इनको कम मात्रा में उपयोग में लाना चाहिए
  • शुगर में कौन सा फल नहीं खाना चाहिए?

  • फलों में चीकू, केला, अनानास, सिघाड़ा, तरबूज, आम, लीची, अंगूर के सेवन से ब्लड शुगर तेजी से बढ़ सकता है इसलिए इनका परहेज करे।
  • पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

    कमर दर्द का इलाज

    आम || Aam ke fayde || Uses and Benefits of Mango in Hindi

    लहसुन के फायदे, विभिन्न रोगों में उपयोग की विधि | Uses and Health Benefits of Garlic in Hindi

    अनार के फायदे और विभिन्न रोगो में प्रयोग की विधि की जानकारी

    Ayurveda And Natural Health Tips