शुगर में शहद खाना चाहिए कि नहीं

शुगर के मरीज को बहुत से लोग सलाह देते है की वे चीनी के स्थान पर शहद का प्रयोग कर सकते है। क्या ये सही है ? शुगर में शहद खाना चाहिए कि नहीं ? Sugar mein Shahad Khana Chahiye Ya Nahi ?

शहद एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लमैशन गुणों से भरपूर होता है लेकिन चीनी की तरह ही शहद भी हमारे ब्लड शुगर के स्तर को प्रभावित करता है। इतना ही नहीं बाजार में मिलने वाले अधिकांश नामी ब्रांड्स के शहद में भी तक़रीबन 80% तक चीनी पाई गई है | शुगर के मरीज को चीनी के स्थान पर शहद का सेवन सिमित मात्रा में तभी करना चाहिए, जब ब्लड शुगर का स्तर नियंत्रण में हो।

क्या शुगर जड़ से खत्म हो सकती है ?

शुगर में शहद खाना चाहिए कि नहीं ? | Shahad for Sugar Patient

हाँ, अगर आपको शुद्ध शहद मिल जाता है तो शुगर के मरीज सिमित मात्रा में इसका सेवन कर सकते है लेकिन तभी जब उनकी शुगर का स्तर नियंत्रण में रहता हो ( Shahad for Sugar Patient ) ।

अगर आप सोच रहे है की शुगर की बीमारी होने से पहले आप जितने मीठे का सेवन करते थे या जितनी जगह पर मीठे के लिए चीनी का उपयोग करते थे , उतनी जगह पर ही चीनी की जगह पर शहद का उपयोग करना शुरू कर दे और इससे आपकी शुगर लेवल भी नियंत्रण में रहेगी तो आप गलत सोच रहे है।

शुगर में कितनी रोटी खानी चाहिए?

शहद भी आपके शुगर के स्तर (Level) को बढ़ाता है जितना की कोई अन्य मीठी वस्तु। बस थोड़ा समय अधिक लेता है।

आप चीनी के स्थान पर शहद का सेवन ( मधुमेह में शहद ) तभी करे जब आपकी शुगर का स्तर नियंत्रण में हो।

क्योकि अगर आपकी शुगर का स्तर नियंत्रण में है तो आप सिमित मात्रा में मीठे का सेवन कर सकते है और अगर आपका मन मीठा खाने का है तो बेहतर होगा की आप चीनी या चीनी से बनी वस्तुओ की स्थान पर थोड़ी मात्रा में शहद का सेवन करे। शहद में शरीर के लिए बहुत से पोषक तत्व और फायदेमंद गुण मौजूद होते है।

शहद क्या है ?

शहद क्या है

शहद एक गाढ़ा, सुनहरे रंग का तरल पदार्थ होता है जो मधुमक्खियों द्वारा फूलो से एकत्रित करके, अपने छत्ते में जमा किया जाता है।

शहद ​​एक प्राकृतिक मीठा पदार्थ है, शहद में सफ़ेद शुगर की तुलना में प्रति चम्मच थोड़ा अधिक कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी मौजूद होती है।

यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ़ एग्रीकल्चर के अनुसार, 1 बड़ा चम्मच कच्चे शहद में लगभग 60 कैलोरी और 17 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होते हैं।

शहद जहर कैसे बनता है ?

शहद में आयरन, विटामिन सी, फोलेट, मैग्नीशियम, पोटेशियम और कैल्शियम सहित कई विटामिन और खनिज भी होते हैं। यह एक एंटीऑक्सिडेंट भी है, जो ऐसे पदार्थ हैं जो कोशिका क्षति को रोकते हैं और धीमा करते हैं।

शहद खाने से शुगर बढ़ता है क्या?

शुगर के मरीज को अपने खानपान में ऐसी वस्तुओ को शामिल करना चाहिए जिनकी ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू कम हो। अधिक ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू वाली वस्तुए ब्लड शुगर के स्तर को अधिक तेजी से बढ़ती है।

शहद का ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू 55 है जबकि चीनी की ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू 65 होती है। इसका मतलब है की शहद, चीनी की तुलना में कम तेज़ी से ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ता है।

शहद ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ाता तो है लेकिन सफ़ेद चीनी के मुकाबले इसमें कई पोषक तत्व पाए जाते है जो हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते है।

शहद में शुगर की मात्रा कितनी होती है ?

मार्किट में मिलने वाले ब्रांड्स पर की गई एक रिपोर्ट के अनुसार भारत के कई बड़े ब्रांड्स के शहद में 80 प्रतिशत शहद मिलावटी है और इनमे चीनी की मिलावट पाई गई है। वैसे 100 ग्राम शहद में तक़रीबन 82 ग्राम शुगर होती है।

शुगर में चीनी खा सकते हैं क्या?

डायबिटीज यानि शुगर एक खतरनाक बीमारी है और इसके खतरनाक होने का एक कारण यह भी है की ब्लड शुगर के स्तर का बढ़ना तो आपके शरीर के लिए नुकसान दायक होता ही है साथ ही अगर आपके ब्लड शुगर का स्तर अधिक कम हो जाये तो आपकी मृत्यु भी हो सकती है।

ऐसे में शुगर के मरीज को अपने पास थोड़ी मात्रा में चीनी अवश्य रखनी चाहिए और शुगर का स्तर अधिक कम होने पर थोड़ी सी चीनी खाना फायदेमंद होता है और आपकी जान भी बचा सकता है।

Disclaimer

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

कमर दर्द का इलाज

आम || Aam ke fayde || Uses and Benefits of Mango in Hindi

लहसुन के फायदे, विभिन्न रोगों में उपयोग की विधि | Uses and Health Benefits of Garlic in Hindi

अनार के फायदे और विभिन्न रोगो में प्रयोग की विधि की जानकारी

Ayurveda And Natural Health Tips