:-

मुंह की सफाई और दांतों की मजबूती के लिए सबसे जरूरी है ठीक से ब्रश करना हालांकि डेंटिस्ट की माने तो 70 से 80% लोग लोग ठीक से ब्रश नहीं करते | हम आपको , , बताने जा रहे हैं |

दोस्तों आजकल की आधुनिक जीवनशैली में मिलने वाले खाद्य पदार्थ का बहुत अधिक प्रभाव हमारे दांतो पर पड़ता है | दांत स्त्री, पुरुष, बच्चो और सभी उम्र के लोगो की सुंदरता को बनाये रखने के साथ साथ उनके स्वाथ्य के लिए भी अति आवश्यक होते है | जहा चमकीले, सफ़ेद, स्वस्थ दांत किसी भी व्यक्ति की सुंदरता में चार चाँद लगा देते है वही पीले, भद्दे दांत अच्छी भली सूरत को भी बिगड़ देते है |
वही छोटे बच्चो के दांतो में कैविटी या कीड़े लग के विचार से ही पेरेंट्स की चिंता कई गुना बढ़ जाती है क्योंकि बच्चो के दांतो के खराब होने का सीधा प्रभाव उनके स्वास्थ्य पर पड़ता है | बच्चो को थोड़े-२ समय के पश्चात् कुछ न कुछ खाने के लिए चाहिए होता है जो की बच्चो के विकास के लिए जरुरी भी होता है मगर कुछ भी खाने के बाद दांतो पर उसके कुछ छोटे-२ हिस्से चिपक जाते हैं जो की दांतों में कैविटी या सड़न का कारण बनते हैं और दांतों को कमजोर करते हैं |

दांतों की मजबूती के लिए सबसे जरूरी है ठीक तरीके से ब्रश करना | ब्रश करने का मकसद है दांतों में फंसे खाने को बाहर निकालना | अक्सर लोग दातों पर ब्रश करने के बजाय उन्हें घिसते हैं जिस से न सिर्फ मसूड़ों में दिक्कत आती है बल्कि दांत भी घिस जाते हैं |

ब्रश सही से करने का तरीका :-

ब्रश सही से करने का तरीका यह है की ब्रश को दांत पर रखकर हल्के हाथों से गोल-गोल घुमाना होता है | इसके बाद ऊपर के दांतो को नीचे की ओर जबकि नीचे के दांतों को ऊपर की ओर ब्रश से साफ करना चाहिए | ताकि दांतो में फंसा खाना बाहर निकल जाए |
अकल दाढ़ और उसके पहले की दाड़ो के ऊपर से थोड़ा सा रगड़कर साफ करना चाहिए जबकि सामने के ऊपर और नीचे के दांतों को ब्रश के सामने वाले हिस्से से ऊपर नीचे ब्रश घुमाकर साफ करना चाहिए | इसी तरह दांतो के पिछले हिस्से को भी साफ करना चाहिए |
जिन लोगों की दांतों के बीच अधिक जगह होती है या जिनके दांत बहुत सटे होते हैं, उन्हें अपने दांतों के बीच के हिस्से की सफाई करने के लिए ज्यादा घने ब्रशों वाले टूथब्रश की जरूरत हो सकती है ।
बाजार में Hard, Medium और Soft तीन तरह के टूथब्रश मिलते हैं | यदि आपके दांतों में sensitivity (झनझनाहट) रहती है तो सॉफ्ट ब्रश से दांत साफ करें| अगर ब्रश के ब्रिस्टल हार्ड है तो उसे ब्रश करने से पहले धीमे गर्म में धो के ब्रश करें |

एक बात का ध्यान रखे की रात को सोने से पहले ब्रश अवश्य करें |

मसूड़ों की मालिश :-

टूथ ब्रश करने के बाद उंगलियों द्वारा हल्के हाथों से मसूड़ों की थोड़ी देर मालिश करनी चाहिए | मालिश करने से मसूड़ों में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है जिससे मसूड़े स्वस्थ रहते है ।

जीभ की सफाई :-

जीभ की सफाई बहुत जरुरी है | ये मुँह से आने वाले बदबू को दूर करता है और जीभ पर सटे बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को ख़त्म करने का काम करता है| टंग – क्लीनर के द्वारा जीभ की नियमित सफाई की जानी चाहिए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *