पतंजलि दिव्य पेय के फायदे

पतंजलि दिव्य पेय के फायदे (Patanjali Divya Peya Ke Fayde in Hindi) – पतंजलि दिव्य पेय चाय का आयुर्वेदिक विकल्प है जिसे भारत की जानी मानी आयुर्वेद कंपनी पतंजलि दिव्य फार्मेसी द्वारा तैयार किया गया है। यह आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों और प्राकृतिक उत्पादों को मिलाकर बनाया गया पेय है। इस लेख में पतंजलि दिव्य पेय क्या है, पतंजलि दिव्य पेय के फायदे, पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी के फायदे, दिव्य पेय के लाभ, पतंजलि दिव्य पेय सामग्री यानि दिव्य पेय के घटक, इसके उपयोग व नुकसान की जानकारी देने जा रहे है।

पतंजलि दिव्य पेय के फायदे | Patanjali Divya Peya Ke Fayde in Hindi

पतंजलि दिव्य पेय जिन जड़ी-बूटियाँ को मिलाकर बनाया गया है वे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होती है। पतंजलि दिव्य पेय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है और रोगो को दूर रखता है। पतंजलि दिव्य पेय खांसी और सर्दी से उबरने में मदद करती हैं। यह आपके शरीर और दिमाग को पोषण और आराम देता है। यह आपके यकृत और पाचन संतुलन में सुधार करता है।

दिव्य पेय क्या है | Patanjali Divya Peya in Hindi

पतंजलि दिव्य पेय (divya peya), पतंजलि दिव्य फार्मेसी द्वारा निर्मित एक हर्बल उत्पाद है। जिसे आप Healthy ड्रिंक, काढ़े या चाय के रूप भी पी सकते है। इसे इलायची, ब्राह्मी, काली मिर्च, सौंठ, दालचीनी जैसी 35 प्रकार की जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है। इसमें किसी प्रकार का प्रेज़रवेटिव, फ्लेवर, कलर या कोई भी हानिकारक तत्व मौजूद नहीं है। इसे पूरी तरह से नेचुरल तरीके से बनाया गया है इसलिए पतंजलि दिव्य पेय के फायदे (divya peya patanjali benefits in hindi) स्वास्थ्य को हैरान कर देने वाले लाभ प्रदान करते है

पतंजलि दिव्य पेय सामग्री | दिव्य पेय के घटक | पतंजलि दिव्य पेय Ingredients

पतंजलि दिव्य पेय के फायदे

पतंजलि दिव्य पेय हर्बल में मिले जाने वाली सामग्री पूरी तरह से प्राकृतिक और उपभोग के लिए सुरक्षित है। वे बिना किसी दुष्प्रभाव के त्वरित परिणाम प्रदान करते हैं।

  1. वन तुलसी (Ocimum Basilicum)- 250 मिलीग्राम
  2. हरी चाय (ग्लाइम्बोपोगोन साइट्रेट) – 200 मिलीग्राम
  3. भूमि अमला (फिलैन्थस यूरिनेरिया) – 200 मिलीग्राम
  4. इला बड़ी (अमोमम सबुलटम) – 200 मिलीग्राम
  5. जयफल (मिरिस्टिका सुगंध) – 200 मिलीग्राम
  6. पुनर्नवा (बोरहविया डिफ्यूज़) – 200 मिलीग्राम
  7. लौंग (सिजियम एरोमैटिकम) – 200 मिलीग्राम
  8. शंखपुष्पी (Convolvulus pluricaulis) – 200 mg
  9. ब्राह्मी (सेंटेला एशियाटिक) – 200 मिलीग्राम
  10. जावित्री (मिरिस्टिका फ्रेग्रेंस) – 200 मिलीग्राम
  11. कमल फूल (नेलुम्बो न्यूसीफेरा) – 150 मिलीग्राम
  12. छव्य (पाइपर रेट्रोफ्रैक्टम) – 150 मिलीग्राम
  13. गुलाब फूल (रोजा सेंटीफोलिया) – 150 मिलीग्राम
  14. वासा (अधातोदा वासिका) – 150 मिलीग्राम
  15. चंदन लाल (टेरोकार्पस सैंटालिनस) – 150 मिलीग्राम
  16. सोंठ (ज़िंगिबर ऑफ़िसिनेल) – 150 मिलीग्राम
  17. सोमलता (एफेड्रा गेरार्डियाना) – 150 मिलीग्राम
  18. लघु इला (एलेटोरिया इलायची) – 150 मिलीग्राम
  19. बनफ्शा (वियोला गंध) – 150 मिलीग्राम
  20. अश्वगंधा (विथानिया सोम्निफेरा) – 150 मिलीग्राम
  21. अर्जुन बार्क– 150 मिलीग्राम
  22. चित्रकमूल (प्लम्बेगो ज़ेलेनिका) – 150 मिलीग्राम
  23. गिलोय (टिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया) – 150 मिलीग्राम
  24. मुलेठी (ग्लाइसीराइजा ग्लबरा) – 150 मिलीग्राम
  25. तेजपात्रा (दालचीनी तिमाला) – 100 मिलीग्राम
  26. सरफोंका (टेफ्रोसिया पुरपुरिया) – 100 मिलीग्राम
  27. छोटी पीपल (पाइपर लोंगम) – 100 मिलीग्राम
  28. बाला (सिडा कॉर्डिफोलिया) – 100 मिलीग्राम
  29. गजबान (ओनोस्मा ब्रैक्टेटम) – 100 मिलीग्राम
  30. गोरखपान (डलबर्गिया लांसोलारिया) – 100 मिलीग्राम
  31. सौंफ (फोनीकुलम वल्गारे) – 100 मिलीग्राम
  32. चंदन (संतालम एल्बम) – 50 मिलीग्राम
  33. दालचीनी – 50 मिलीग्राम
  34. काली मिर्च (पाइपर नाइग्रम) – 50 मिलीग्राम

पतंजलि दिव्य पेय के फायदे | पतंजलि दिव्य पेय के लाभ

पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी के फायदे इतने है की जिन्हे जानकर हर कोई इसे उपयोग में लाना चाहेगा। तो आइये जानते है इसके फायदे :-

वजन घटाने में सहायक पतंजलि दिव्य पेय

यदि आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो दिव्य पेय हर्बल चाय सबसे अच्छे प्राकृतिक मिश्रणों में से एक है जिसे आप हर दिन ले सकते हैं। यह न केवल शरीर में जमा वसा (FAT) को जलाने में मदद करती है बल्कि आपके शरीर में ऊर्जा बनाये रखने में भी सहायक होती है।

तनाव से राहत दिलाये पतंजलि दिव्य पेय

तनाव आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों की सबसे आम समस्या है। पतंजलि दिव्य पेय नींद की quality में सुधार करने के साथ-साथ तनाव को दूर करने में भी मदद करती है।

पाचन शक्ति बढ़ाने में सहायक पतंजलि दिव्य पेय

पतंजलि दिव्य पेय में मौजूद आयुर्वेदिक जड़ी बुटिया पाचन क्रिया में सुधार लेकर पाचन शक्ति को बढ़ाने में सहायक होती है। यह चयापचय दर को तेज करके पाचन में सुधार करती है। पतंजलि दिव्य पेय में टैनिन होता है, एक यौगिक जो पेट में पाचक रस के निर्माण में देरी करता है क्योंकि रसायन इसे तैयार करने वाली ग्रंथियों को सिकोड़ता है।

रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में सहायक पतंजलि दिव्य पेय

दिल की समस्याओं के प्रति संवेदनशील लोगों के लिए, पतंजलि दिव्य पेय रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने की दिशा में अद्भुत काम करती है, जिससे हृदय रोगों का खतरा कम होता है।

इम्युनिटी पावर बढ़ाने में सहायक पतंजलि दिव्य पेय

नियमित रूप से इस चाय को पीने से इम्युनिटी फंक्शन को बढ़ावा देने के लिए भी जाना जाता है, जिससे आपको विटामिन सी की उच्च सामग्री के कारण आम संक्रमण से बचाने में मदद मिलती है।

सर्दी-खांसी के लिए उपयोगी पतंजलि दिव्य पेय

बार-बार होने वाली सर्दी, खांसी, जुकाम व गले में दर्द की समस्या का एक कारण कमजोर इम्युनिटी पावर भी होती है। पतंजलि दिव्य पेय में इलायची, काली मिर्च, दालचीनी, लोंग, सोंठ, पिप्पली व मुलेठी जैसी आयुर्वेदिक औषधीय मौजूद होती है जो इन रोगो से लड़ने में शरीर की सहायता करती है। साथ ही वायरल फीवर में आराम देने और छाती में जमे बलगम की समस्या में भी पतंजलि दिव्य पेय का सेवन फायदेमंद होता है।

शारीरिक कोशिकाओं के लिए फायदेमंद पतंजलि दिव्य पेय

पतंजलि दिव्य पेय में मौजूद जड़ी बुटिया कोशिकाओं को पोषण देने में मदद करती है और पूरे शरीर में पोषक तत्वों का अधिक प्रभावी ढंग से उपयोग करने में सहायक होती है।

पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए लाभकारी पतंजलि दिव्य पेय

पतंजलि दिव्य पेय का सेवन करने से गैस, एसिडिटी, पेट में जलन व भारीपन, अपच और कब्ज की समस्या में आराम मिलता है। जहां चाय का सेवन करने से शरीर में यह समस्याएं उभरने लगती है वहीँ पतंजलि दिव्य पेय को चाय के रूप में इस्तेमाल करके आप इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते है।

मूत्रवर्धक पतंजलि दिव्य पेय

पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी में मूत्रवर्धक गुण होते हैं जो शरीर को शुद्ध करते हैं और संचित विषाक्त पदार्थों को मूत्र के माध्यम से शरीर से बाहर निकलकर छुटकारा पाने में मदद करते हैं। यह मूत्र पथरी के गठन को रोकने में भी मदद करता है।

शरीर में ऊर्जा का संचार करने में सहायक पतंजलि दिव्य पेय

शरीर में ऊर्जा की कमी के कारण सुस्ती और नींद महसूस किए बिना दिन गुजारना मुश्किल लगता है, तो आप दिव्य पेया हर्बल टी के साथ अपने निम्न ऊर्जा स्तर को पुनः प्राप्त कर सकते हैं और शरीर को एक्टिव रख सकते है।

इन स्वास्थ्य लाभों के अलावा, पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी आंतों के संक्रमण, तंत्रिका विकारों, ब्रोन्कियल अस्थमा, समय से पहले बूढ़ा होना, दस्त, रतौंधी, मुंहासे, मलेरिया, बालों का झड़ना, कम हीमोग्लोबिन, कैंसर, अपच, बवासीर और कई अन्य स्वास्थ्य से लड़ने में मदद करती है।

दिव्य पेय बनाने की विधि और सेवन का तरीका | How To Prepare Divya Peya Herbal Tea | Patanjali Divya Peya How To Use In Hindi

  • एक कप उबलते गर्म पानी में एक चम्मच पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी पाउडर मिलाएं।
  • आप चाहें तो इसमें स्वादनुसार मीठा भी मिला सकते है।
  • अगर आप इसे दूध वाली चाय के स्थान पर उपयोग में लेना चाहते है तो इसमें थोड़ी मात्रा में दूध भी मिला सकते है।
  • और सर्वोत्तम परिणामों के लिए इस मिश्रण को दिन में 1-2 बार पिएं।

पतंजलि दिव्य पेय टी पाउडर | Patanjali Divya Peya Tea Powder का उपयोग

पतंजलि दिव्य पेय टी पाउडर / Patanjali Divya Peya Tea Powder का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों, स्थितियों और लक्षणों के उपचार, नियंत्रण, रोकथाम और सुधार के लिए किया जा सकता है। बेहतर होगा की इन स्तिथियो में इसका प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श केर ले।

  • उदरशूल
  • बढ़ा हुआ रक्तचाप
  • मधुमेह
  • मासिक धर्म की समस्या
  • सामान्य जुकाम
  • बुखार
  • जलोदर
  • दिल की बीमारी
  • जोड़ों का दर्द
  • अल्सर

पतंजलि दिव्य पेय के नुकसान । पतंजलि दिव्य पेय के दुष्प्रभाव | Patanjali Divya Peya Side Effects

निम्नलिखित उन संभावित पतंजलि दिव्य पेय के नुकसान या दुष्प्रभावों (Patanjali Divya Peya Side Effects) की सूची है जो इसमें सम्मिलित सभी सामग्रियों से हो सकते है। ये दुष्प्रभाव संभव हैं, लेकिन हमेशा नहीं होते हैं। कुछ दुष्प्रभाव दुर्लभ लेकिन गंभीर हो सकते हैं।

  • अधिक मात्रा में पित्त पथरी का बनना
  • ऊपरी जठरांत्र संबंधी मार्ग से रक्तस्राव
  • दमा
  • पेट खराब
  • दस्त
  • उल्टी करना
  • मल त्याग में वृद्धि
  • पेट में ऐंठन
  • मतली
  • शुष्क मुँह
  • थकान
  • इसके अलावा पतंजलि दिव्य पेय के कुछ और नुकसान भी हो सकते है। यह सभी को नहीं होते लेकिन किसी किसी को हो सकते है।

पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी की कीमत | पतंजलि दिव्य पेय प्राइस | दिव्य हर्बल पेय price

Patanjali Divya Peya 100gm (Pack of 3) की आज की कीमत तक़रीबन 190 से 200 है जो हो सकता है समय के साथ चेंज हो जाये। हो सकता है जिस समय आप यह लेख पढ़ रहे हो, इसकी पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी की कीमत में बदलाव हो जाये इसलिए इसका Updated Price जानने और इसे खरीदने के लिए Amazon के Link Patanjali Divya Peya पर क्लिक करे।

निष्कर्ष

पतंजलि दिव्य पेय का उपयोग हर्बल टी के रूप में किया जा सकता है जो चाय का एक बेहतरीन विकल्प है। चाय से मिलने वाले नुकसानों को देखते हुए चाय के स्थान पर पतंजलि दिव्य पेय का इस्तेमाल करना काफी फायदेमंद हो सकता है। इस लेख में हमने पतंजलि दिव्य पेय क्या है, पतंजलि दिव्य पेय के फायदे (divya peya patanjali benefits in hindi), पतंजलि दिव्य पेय हर्बल टी के फायदे, दिव्य पेय के लाभ, पतंजलि दिव्य पेय सामग्री यानि दिव्य पेय के घटक, इसके उपयोग व नुकसान के बारे में जाना। इस लेख में दी गई जानकारी अगर आपको पसंद आई हो तो इसे अन्य लोगो तक पहुंचने में हमारी सहायता करे और इस लेख को शेयर करे।

Disclaimer

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल | FAQ

पतंजलि दिव्य पेय में क्या क्या होता है?

पतंजलि दिव्य पेय में इलायची, काली मिर्च, दालचीनी, लोंग, सोंठ, पिप्पली व मुलेठी जैसी 30 से अधिक आयुर्वेदिक औषधीय मौजूद होती है जो रोगो से लड़ने में शरीर की सहायता करती है।

दिव्य पेय हम कितनी बार पी सकते हैं?

शुरुआत में पतंजलि दिव्य पेय को दिन में एक बार ही पीना चाहिए। इसका सेवन करने पर शरीर में कोई भी दुष्प्रभाव नजर ना आये तो आप इसे दिन में 2 बार भी ले सकते है। बेहतर होगा की इस पर अपने चिकित्सक की सलाह का पालन करें।

हर्बल चाय पीने से क्या फायदा?

पतंजलि दिव्य पेय जिन जड़ी-बूटियाँ को मिलाकर बनाया गया है वे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होती है। पतंजलि दिव्य पेय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है और रोगो को दूर रखता है। पतंजलि दिव्य पेय खांसी और सर्दी से उबरने में मदद करती हैं। यह आपके शरीर और दिमाग को पोषण और आराम देता है। यह आपके यकृत और पाचन संतुलन में सुधार करता है।

आपके लिए कुछ जरूरी लेख

Source:-

DMCA.com Protection Status