Ayurveda, Bhojan, My Blogs, रोग

Not To Eat In Gastric Problem

86 / 100

आपको गैस बनने की समस्या है तो इन 5 सब्जियों से बचना चाहिए

आयुर्वेदा के अनुसार शरीर में वात-पित्त-कफ समान रूप से होने पर व्यक्ति स्वस्थ रहता है। यदि शरीर में इन तीनों का संतुलन बिगड़ जाए तो कई रोग हो जाते हैं। वात जिसे वायु या गैस भी कहते है अगर उसका संतुलन बिगड़ जाये तो शरीर को 80 तरह के अलग अलग रोग हो सकते है | 

यह माना जाता है कि दुनिया भर में गैस (Gastric Problem) लगभग आधे लोगों को प्रभावित करता है। Ayurveda home remedies के इस वीडियो में हम आपको उन ५ सब्जियों के बारे में जानकारी देने जा रहे है जो उन लोगो को जिन्हें पेट में गैस (Gastric Problem) बनने की समस्या होती है, उन्हें अपने खाने में इनका कम से कम उपयोग करना चाहिए…

Not To Eat In Gastric Problem

दोस्तों, पेट में गैस बनने की समस्या आजकल एक सामान्य-सी बात हो गई है। कुछ वक्त पहले तक यह माना जाता था की जैसे-जैसे उम्र बढ़ती जाती है पेट में गैस बनने की समस्या आम होती जाती है और इसका कारण माना जाता था कि बढ़ती उम्र के कारण उनका पाचनतंत्र कमजोर हो कर धीमी गति से कार्य करने लगता है। और कम उम्र के लोगों में गैस की समस्या का कारण पेट में गड़बड़ी (पाचन क्रिया का सही से कार्य न करना ) होती थी।

लेकिन अब तो ज्यादातर लोगों, चाहे उनकी उम्र कितनी भी क्यों न हो, का पेट अक्सर गड़बड़ रहता है और पेट में गैस बनना जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है …

 

क्यों रहता है ज्यादातर लोगों का पेट खराब?

आजकल के ज्यादातर लोगों पैसे कमाने की अंधाधुंध दौड़ में लगे हुए है उन्हें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं उनके पास ये सोचने का वक़्त ही नहीं होता । वे एक क्लिक के जरिए पैसा कमाने के अलग-२ तरीको के बारे में तो जानकारी जुटा लेते है लेकिन मानव शरीर को स्वस्थ रखने के लिए उचित खान-पान के बारे में उन्हें बहुत अधिक जानकारी नहीं होती है।

खाना खाने के 3 नियम और यह नियम कैसे कार्य करते है ?

वैसे भी आज की जनरेशन टेस्ट यानी स्वाद की दीवानी है | इसी कारण जीभ के गुलाम ज्यादातर लोग अपनी सेहत से ज्यादा जीभ के स्वाद को preference देते है | सेहत अभी तक उनके लिए सैकंडरी होती थी। हालांकि कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के बाद काफी लोग अपने खान-पान पर ध्यान देने लग पड़े हैं।

क्यों रहता है ज्यादातर लोगों का पेट खराब

उन्ही लोगो के लिए हम यह जानकारी ले कर आये है जिन्हें पेट में गैस (Gastric Problem) बनने की समस्या होती है | उन्हें अपने खाने में इन 5 चीजों का कम से कम उपयोग करना चाहिए…

पेट में गैस बनने की समस्या उन्हें इन 5 चीजों से दूर रहना चाहिए (5 Foods Not To Eat In Gastric Problem)

जिन लोगों का पेट फूलता हैं, बार बार पाद आती हैं, पेट मे गैस बनने की समस्या अक्सर रहती है, उन्हें अपने भोजन में उन सब्जियों, दालों और साबुत अनाज को शामिल करने से बचना चाहिए जो शरीर में वात यानि वायु ( जिसे आम भाषा में गैस भी कहते है ) बढ़ाने का कार्य करते हैं। इनमें रोजमर्रा के जीवन में जो सब्जियां, अनाज और दालें शामिल हैं, उनके नाम हम आपको यहां बताने जा रहे हैं…

कटहल

कटहल की सब्जी न सिर्फ देखने में बल्कि खाने में भी बहुत ही स्वादिष्ट होती है। कटहल को बहुत से लोग नॉनवेज का ऑप्शन भी मानते है। ऐसा इसलिए क्योंकि कटहल की सब्जी दिखने में काफी हद तक नॉनवेज जैसी स्वादिष्ट दिखती है। कटहल की मसालेदार सब्जी किसी भी खाने के शौकीन के मुंह में पानी ला सकती है |

कटहल में विटामिन ‘A’, ‘C’, थायमीन, पोटैशियम, कैल्शियम, आयरन, जिंक और फाइबर प्रचुर मात्रा में उपलब्ध होते है | इतने सारे पोषक तत्वों से भरपूर कटहल एक गुणकारी फल है लेकिन जिन लोगों को शरीर में गैस बनने की समस्या होती है, उन्हें किसी भी रूप में कटहल का सेवन करने से बचना चाहिए। क्योंकि कटहल बादी प्रकृति का माना जाता है और बादी प्रकृति की चीजे शरीर में गैस बनने की प्रक्रिया को उत्तेजित करता है।

कटहल के बारे में तो यहां तक कहा जाता है की इसको खाने के बाद किसी भी हालत में पान नहीं खाना चाहिए नहीं तो पेट में इतनी गैस बनेगी की व्यक्ति की पेट फूलने से मृत्यु तक हो सकती है।

कटहल

पेट में गैस बनने की समस्या उन्हें इन 5 चीजों से दूर रहना चाहिए (5 Foods Not To Eat In Gastric Problem)

अरबी

हमारे देश में बहुत से लोग अरबी की सब्जी को बहुत चाव से खाते है। देश के अलग-अलग हिस्सों में अरबी को अलग तरीकों से बनाकर चाव से खाया जाता है। लेकिन यह टेस्टी सब्जी पेट में गैस बनने की वजह हो सकती है। क्योंकि इसकी प्रकृति वायु का प्रकोप करने वाली होती है।

इसलिए जिन लोगों को बार बार पाद और पेट में गैस बनने की समस्या रहती हो, उन्हें अरबी की सब्जी सोच समझ कर खानी चाहिए। साथ ही इसकी सब्जी बनाते समय उसमे गरम-मसाला, , अजवाइन और लौंग आदि डालें। इससे गैस कम बनेगी, साथ ही पेट दर्द नहीं होगा।
जिन लोगों को गैस बनती हो, घुटनों के दर्द की शिकायत और खांसी हो, उनके लिए अरबी का अधिक मात्रा में उपयोग हानिकारक हो सकता है।

मूली

हालांकि मूली सिर्फ सर्दियों में ही ताजी मिलती है लेकिन आजकल स्टोर्ड फल और सब्जियां हर सीजन में मिलते हैं। आयुर्वेदा के अनुसार हमेशा सीजन के ताजे फल और सब्जिया ही खाने चाहिए | जिन लोगों गैस बनने (Gastric Problem) की समस्या होती है, उन्हें ऑफ सीजन में तो मूली खाने से पूरी तरह बचना चाहिए।

मूली खाना पचाने में बहुत ही सहायक होती है इसलिए इससे अकेले कच्चा न खाये हमेशा मूली की सलाद, सब्जी या पराठा खाये और वह भी बहुत सीमित मात्रा में | कच्ची मूली पचाने में भारी होती है और शरीर में गैस का कारण बनती है |

मूली का परांठा या सब्जी बनाते समय उसमे दो चुटकी अजवाइन या पुदीना की 4 से 5 पत्तियां जरूर डाले। इससे आपको गैस से मुक्ति मिलेगी साथ ही मूली जल्दी डायजेस्ट भी होगी।

 

सफेद छोले

सफेद छोले खाना ज्यादातर लोगों को पसंद होता है। लेकिन इन्हे खाने से पहले यह जान ले की सफेद छोले बादी होते है और शरीर में वात यानि वायु ( गैस ) बनाने का कार्य करते है |

इसलिए छोले खाने से शरीर में गैस बनने की समस्या हो सकती है। खासतौर पर उन लोगों को जिनका पाचनतंत्र कमजोर होता है या जिन्हें कब्ज की समस्या रहती है। इन लोगों को छोले-चावल, छोले-पूड़ी जैसे भारतीय फेस्टिव फूड (जिनमे सफेद छोलो का इस्तेमाल किया जाता है ) को कम से कम खाना चाहिए।

पेट में गैस बनने की समस्या उन्हें इन 5 चीजों से दूर रहना चाहिए

राजमा

राजमा चावल, एक ऐसा भोजन जिसका पूरा हिंदुस्तान दीवाना है। लेकिन जिन लोगों को पेट में गैस बनने की समस्या होती है, उन्हें राजमा-चावल खाने में अपने स्वाद पर थोड़ा संयम रखना चाहिए। क्योंकि राजमा शरीर में वायु बढ़ाने का काम करता है। इससे पेट में गैस बनने की समस्या, शरीर में भारीपन जैसी समस्या हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *