cucumber-ke-fayde-in-hindi

Cucumber in Hindi || खीरे के इतने फायदे, जानकर हो जाएंगे हैरान

के इतने फायदे,

 

आयुर्वेद के अनुसार (Cucumber) स्वादिष्ट, शीतल फल है | प्यास, दाह (Inflammation), पित्त और रक्त पित्त को दूर करने के साथ-साथ रक्त विकार (Blood Disorder) और मृतकृच्छ का नाश करने वाला फल है |
मोटापा (Obesity) , गुर्दे से संबंधित बीमारियां, कब्ज (Constipation), उदर विकारों में (Cucumber) लाभकारी है | इसमें पोटेशियम, कैल्शियम, फास्फोरस, गंधक, आयरन, सिलिकॉन, फ्लोरीन और क्लोरीन पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं | इसके अलावा विटामिन ‘बी’ और विटामिन ‘सी’ भी काफी मात्रा में विद्यमान (Exist) रहते हैं |
(Cucumber) ग्रीष्म ऋतु (Summer Season) में पाया जाने आने वाला शीतल, सुपाच्य और तरावट भरा फल है | (Cucumber) एक स्वादिष्ट और सलाद के रूप में खाए जाने वाला फल है | ग्रीष्म ऋतु (Summer Season) में इसे खाने पर शरीर में ठंडक और ताजगी का संचार होता है |

खीरा खाने के होते हैं इतने फायदे, जानकर हो जाएंगे हैरान
गुणों की दृष्टि से यह ककड़ी से मिलता-जुलता फल है | की तासीर (Effect) ठंडी होती है | वैसे भी और ककड़ी एक ही प्रजाति के फल है | (Cucumber) के सेवन से प्यास (Thirst) और पेट तथा जिगर की जलन मिटती है |
(Cucumber) कब्ज दूर करता है | पीलिया (Jaundice), ज्वर (Fever), शरीर की जलन, गर्मी से होने वाले विकारों और त्वचा रोग में लाभदायक है | छाती की जलन, पेट की गैस और Acidity में नियमित रूप से (Cucumber) खाने से फायदा होता है |

(Cucumber) का विभिन्न रोगों में प्रयोग इस प्रकार है:-

चेहरे के रोग में खीरे के प्रयोग

चेहरे के रोग में

मुंहासे (Acne):-

  • रात को चेहरे पर का रस लगाने से मुंहासे (Acne) व दाग-धब्बे दूर होते हैं |
  • के रस में जैतून का तेल (Olive oil) मिलाकर चेहरे पर मलने से भी फायदा होता है |
  • का रस व जौ का आटा (Barley flour) मिलाकर, पेस्ट बनाकर, चेहरे पर लगाने से दाग-धब्बे और मुहांसे (Acne) दूर हो जाते हैं |
  • के टुकड़ों को चेहरे पर मलने और थोड़ी देर बाद सादा पानी से चेहरा धोने से मुहांसे (Acne) कम होते हैं |

झाइयां (Heat Spot) :-

के रस में जरा सा नींबू (Lemon) का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से काली झाइयां (Heat Spot) मिट जाती है |

 

सौंदर्य वर्धक (Beauty magnate):-

का रस व गाजर (Carrot) का रस मिलाकर पीने से त्वचा सुंदर बनती है तथा दाग धब्बे दूर होते हैं |

 

त्वचा में निखार (Skin Whitening):-

  • खीरे के रस में अंडे की जर्दी (Egg yolk) व नींबू का रस (Lemon Juice) मिलाकर चेहरे पर लगाएं, थोड़ी देर बाद चेहरा धो ले | त्वचा में निखार आ जाएगा |
  • खीरे के रस में नींबू व मलाई (Cream) फेंटकर (Fent) लगाने से रंग साफ हो जाता है |
  • खीरे के रस में दूध, नींबू तथा शहद (Honey) मिलाकर पूरे शरीर पर लगाने से त्वचा में निखार आता है |

 

त्वचा की खुश्की (Skin Dryness) :-

गुलाब जल (Rose Water) में खीरे का रस मिलाकर हाथ-पैर व चेहरे पर लगाने से खुश्की (Dryness) दूर होती है |

 

तेलीय त्वचा (Oily Skin) :-

खीरे के रस में मुल्तानी मिट्टी पीसकर लगाएं | कुछ देर बाद गाढ़े-गाढ़े रस को चेहरे पर, गर्दन (Neck) पर लगाएं | सूखने पर मुंह धो लें | इससे त्वचा की तैलीयता घट जाती है |

 

पेट के रोग में

उदर विकार (Abdominal Disorders):-

खीरे का रस दिन में दो-तीन बार पीने से उदर विकार (Abdominal Disorders) दूर होते हैं |

कब्ज (Constipation):-

प्रतिदिन (Daily) भोजन से पूर्व एक नमक लगाकर खाने से कब्ज (Constipation) दूर होती है |

भूख खोलना:-

भोजन के साथ नमक, काली मिर्च और नींबू डालकर खीरे का सेवन करने से भोजन आसानी से पचता (Digest) है तथा भूख खुलती है |

 

अन्य रोगो में

खीरे के प्रयोग

आंखों की जलन (Eye Irritation):-

खीरे का रस आंखों की पलकों (The Eyelids) पर, आंखों के नीचे लगाने से या खीरे की Slice पलकों पर रखने से आंखों की जलन दूर होती है व आंखों के नीचे का कालापन (Blackness) दूर होता है |

 

घुटनों का दर्द (Knee pain):-

भोजन में एक कली लहसुन (Garlic) के साथ खाने से (Knee pain) में आराम मिलता है |

मूत्र विकार (Urinary Disorder):-

मूत्र त्याग करते समय होने वाली जलन (Irritation) को दूर करता है | मूत्र संबंधी सभी विकारों में यह लाभकारी है |

पीलिया (Jaundice):-

खीरे का रस पीने से पीलिया में लाभ होता है | यकृत (Liver) में बड़ी हुई पित्त का शमन (Mitigation) करता है, जिससे रक्त (Blood) में आए पीलिया को दूर किया जा सकता है और रक्त में लाल कणों में वृद्धि होती है |

 

मूत्रावरोध:-

  • खीरे के बीजों को पीसकर, ठंडाई बनाकर पीने से पेशाब (Urine) खुलकर आता है |
  • खीरे का नियमित सेवन करने से भी पेशाब (Urine) खुलकर आता है |

गुर्दे का दर्द (Kidney Pain):-

खीरे का रस गर्म करके पीने से गुर्दे के दर्द (Kidney Pain) में फ़ौरन आराम मिलता है |

अमाशय की जलन (Gastric Irritation):-

खीरे के रस का सेवन करने से अमाशय की जलन (Gastric Irritation) में बहुत फायदा होता है |

मोटापा (Obesity):-

प्रातः काल (Morning) यानी सुबह-सुबह खीरे (Cucumber) का सेवन करने से शरीर में ताजगी और हल्कापन आता है |

सिर दर्द (Headache):-

(Cucumber) काटकर सूंघने और उसका एक टुकड़ा माथे पर रगड़ने से पित्त विकार से उत्पन्न से सिर दर्द (Headache) दूर हो जाता है |

लू लगना (Sunstroke):-

खीरे के स्लाइस बिछाकर, उस पर सर रखने से लू (Sunstroke) का असर जाता रहता है |

पथरी (Calculus):-

खीरे का रस एक-एक कप दिन में तीन बार पीने से गुर्दे की पथरी (Calculus) निकल जाती है | इसके रस में थोड़ा सा सेंधा नमक मिलाकर पीने से शीघ्र आराम मिलता है |

 

खीरे (Cucumber) का सेवन करते समय क्या-२ सावधानिया बरतनी चाहिए या कब नुकसान करता है? :-

  1. खीरे (Cucumber) का सेवन दोपहर तक ही करना चाहिए |
  2. अति हर एक चीज की बुरी होती है | एक साथ अधिक मात्रा में खीरा (Cucumber) खाना हानिकारक हो सकता है |
  3. खीरे (Cucumber) का सेवन करने के बाद 1 घंटे तक पानी नहीं पीना चाहिए |
  4. वर्षा और शरद ऋतू में खीरे या ककड़ी प्रजाति के किसी भी फल का सेवन नहीं करना चाहिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *