कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान (Castor Oil Ke Fayde Or Nuksan) – कैस्टर ऑयल जिसे अरंडी के तेल के नाम से भी जाना जाता है, हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद (Castor Oil Benefits in Hindi) होता है। इस लेख में हम कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान, कैस्टर ऑयल के फायदे ( Castor Oil ke Fayde), कैस्टर ऑयल के नुकसान ( Castor Oil ke Nuksan ) के साथ-२ इसके उपयोग की जानकारी भी देने जा रहे है।

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान

कैस्टर ऑयल को अधिकांश लोग कब्ज दूर करने की कारगर औषधि ही मानते है लेकिन बहुत कम लोग ही यह जानते है की यह त्वचा के रोग, बालों की समस्याएं, गठिया, पाइल्स, किडनी की सूजन को दूर करने की कारगर औषधि भी है लेकिन अधिक मात्रा में इसका उपयोग करने से इसके कुछ नुकसान भी भी झेलने पड़ सकते है।

इस बारे में और अधिक जानकारी के लिए पढ़ते रहे।

कैस्टर ऑयल

कैस्टर ऑयल (castor oil ), एक वनस्पति यानि अरंड के पौधे पर उगने वाले अरंडी के बीजों से निकाला जाने वाला वनस्पति ऑयल है। अरंडी के पौधे का वनस्पतिक नाम “रिसिनस कॉम्युनिस” (ricinus communis) है। इसके बीजों में तक़रीबन 40 से 60 प्रतिशत तक तेल मौजूद होता है।

वैसे तो अरंडी के बीज जहरीले होते है लेकिन इनसे तेल निकलने के लिए जिस प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जाता है वो इसके जहरीलेपन को समाप्त कर देती है।

अरंडी का तेल हल्के पीले रंग का पारदर्शी लेकिन गाढ़ा तरल पदार्थ होता है। जिसे अलग अलग भाषाओ में अलग-अलग नामो से जाना जाता है।

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान

विभिन्न भाषाओ में कैस्टर ऑयल के नाम

हिंदी (Hindi)अरंड, एरंड, एरंडी, रेंड़ी
इंग्लिश (English)कैस्टर ऑयल (castor oil)
संस्कृत (Sanskrit) एरण्ड, आमण्ड, चित्र, गन्धर्वहस्तक, पञ्चाङ्गुल, दीर्घदण्ड, वातारि, उरुबक, चित्रबीज, उत्तानपत्रक, व्याघपुच्छ
नेपाली (Nepali)अँडेर
उर्दू (Urdu)एरण्ड
तेलगु (Telugu)आमुदामु
बंगाली (Bengali)भेरेंडा
तमिल (Tamil)एरण्डम
मराठी (Marathi)एरंड, एरंडी
कन्नड़ (Kannad)हरलु
गुजराती (Gujarati)एरंडो, एरंडियों ड़ेवेली
असम (Assamese)इरी
पंजाबी (Punjabi)अनेरू , अरण्ड
अरबी (Arabic)खिरवा , बज्रुल खिर्बआ

कैस्टर ऑयल के फायदे | Castor Oil ke Fayde

  1. कैस्टर ऑयल पेट की समस्याओं को दूर रखने में काफी फायदेमंद होता है। इसका सिमित मात्रा में सेवन से कब्ज, पेट में गैस और अपच जैसे समस्याओं में फायदा मिलता है। इसमें लेग्जेटिव गुण पाए जाते है जिस कारण यह बच्चो से लेकर बड़ो तक, सभी का पेट साफ़ करने की कारगर औषधि है।
  2. कैस्टर ऑयल के तेल की मालिश करने से जोड़ो का दर्द और गठिया का दर्द दूर करने में सहायता मिलती है।
  3. कैस्टर ऑयल में एंटी-इंफ्लामेन्ट्री गुण भी पाए जाते है जिससे यह शरीर में दर्दो का कारण बनने वाली सूजन को दूर करके दर्दो से आराम दिलाने में सहायक होता है।
  4. कैस्टर ऑयल बवासीर की समस्या में भी काफी फायदेमंद होता है। बवासीर में कब्ज की समस्या होना या मल का गाढ़ा होना, समस्या को बढ़ा सकता है। ऐसे में कॉस्टर ऑयल का सेवन आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है।
  5. शरीर में मौजूद टॉक्सिन्स, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर बना सकते है। कैस्टर ऑयल में मौजूद लैक्सटिव गुण, शरीर में मौजूद टॉक्सिन्स को मल के जरिये शरीर से बाहर निकल फेकते है और शरीर टॉक्सिन्स फ्री हो जाता है। इतना ही नहीं कॉस्टर ऑयल शरीर में रोगो से लड़ने वाली एंटीबाडीज के निर्माण में भी सहायक होता है।
  6. कैस्टर ऑयल में पाए जाने वाले एंटी इंफ्लेमेटरी गुण, गर्मियों में होने वाले फंगल इंफेक्शन से छुटकारा दिलाने में फायदेमंद होते है।
  7. त्वचा में होने वाली दाद, खाज और खुजली की समस्या में भी कैस्टर ऑयल काफी फ़ायदेमदं होता है। बस आपको नारियल का तेल और कॉस्टर ऑयल, दोनों को मिक्स करके दाद, खाज, खुजली से प्रभावित त्वचा पर लगाना है। कुछ ही दिनों में आराम आ जायगा।
  8. त्वचा पर होने वाले दाग-धब्बे, कील मुहासे, बढ़ती उम्र के कारण चेहरे पर आने वाली झुर्रिया आदि को दूर करने में भी कैस्टर ऑयल काफी फायदेमंद होता है। इसका इस्तेमाल करने से इन समस्याओ को दूर करने में सहायता मिलती है और गोरी और चमकदार त्वचा मिलती है।
  9. आँखों के नीचे होने वाले डार्क सर्कल्स पर कैस्टर ऑयल की मालिश करना काफी फायदेमंद रहता है। डार्क सर्कल्स को दूर करने का यह काफी प्रभावी तरीका है।
  10. बालो के लिए भी काफी फायदेमंद होता है कैस्टर ऑयल। रूखे बेजान बाल, डेंड्रफ की समस्या, बालों की ग्रोथ न होना और सफ़ेद बालों की समस्या आदि सभी समस्याओ में कॉस्टर ऑयल की रोजाना मालिश करने से लाभ मिलता है।

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

कैस्टर ऑयल के नुकसान | Castor Oil ke Nuksan

वैसे तो कैस्टर ऑयल कितना फायदेमंद है, यह तो हम ऊपर बता ही चुके है लेकिन अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से कैस्टर ऑयल के कुछ नुकसान बह हो सकते है । आइये जानते है उनके बारे में : –

  • कैस्टर ऑयल की तासीर गर्म होती है इसलिए अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से दस्त या पेचिश की समस्या हो सकती है।
  • कुछ लोगो में कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिलते है जैसे :- पेट में ऐंठन, मतली, उल्टी, चक्कर आना।
  • स्तनपान करने वाली माताओं और बच्चों को इसका इस्तेमाल बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए।
  • कुछ लोगो को कैस्टर ऑयल से एलर्जी भी हो सकती है। स्किन पर रैश, खुजली और सूजन इससे होने वाली एलर्जी के मुख्य लक्षण हैं। इन लक्षणों के दिखाई देने पर कॉस्टर ऑयल का उपयोग न करे ।
  • अपनी गर्म तासीर के कारण, इसके सेवन से गर्भवती स्त्रिया की डिलीवरी जल्दी हो सकती है और इसके अधिक सेवन से कुछ गर्भपात के मामले भी देखे गए हैं।
  • बच्चों के मुंह और गुप्तांगों पर कैस्टर ऑयल का उपयोग नुकसानदायक हो सकता है।

अरंडी के तेल से क्या नुकसान है?

कैस्टर ऑयल की तासीर गर्म होती है इसलिए अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से दस्त या पेचिश की समस्या हो सकती है। कुछ लोगो में कैस्टर ऑयल का इस्तेमाल करने से कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखने को मिलते है जैसे :- पेट में ऐंठन, मतली, उल्टी, चक्कर आना।

कैस्टर ऑयल पीने से क्या होता है?

कैस्टर ऑयल को अधिकांश लोग कब्ज दूर करने की कारगर औषधि ही मानते है लेकिन बहुत कम लोग ही यह जानते है की यह त्वचा के रोग, बालों की समस्याएं, गठिया, पाइल्स, किडनी की सूजन को दूर करने की कारगर औषधि भी है |

Disclaimer

Specially For You:-

पेट में वायु गोला की दवा

References:-

DMCA.com Protection Status