मधुमेह यानि शुगर के मरीज को दूध पीना चाहिए या नहीं ?

डायबिटीज यानि शुगर के रोगिओं को अपने खान पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए। दूध भारतीय भोजन का अभिन्न अंग तो है ही साथ ही स्वास्थ्य के लिए आवश्यक सभी पोषक तत्वों से भी यह भरपूर होता है। ऐसे में यह सवाल उठना की शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं, बिलकुल तर्कसंगत है।

एक्सपर्ट्स के अनुसार डायबिटिक यानि शुगर रोग से पीड़ित व्यक्ति को अपने भोजन में 45 से 60 ग्राम कार्बोहाइड्रेट का सेवन करना चाहिए। ऐसे में शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं ? अगर पी सकते है तो शुगर रोगी दूध कितना पी सकते है और मधुमेह रोगियों के लिए रात में दूध पी सकते हैं या नहीं ? आइये जानते है इन सब सवालों का जवाब।

शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं ? । डायबिटीज में दूध पी सकते हैं

आइये जानते है शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं ? इस बात का जवाब आपको आगे दी गई कुछ जानकारीओ से मिल जायगा क्योकि इनमे से सिर्फ एक जानकारी के आधार पर यह नहीं कहा जा सकता की शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं, इसलिए पूरी जानकारी पढ़ने के बाद ही आप तय करे।

  1. शुगर के लक्षण दिखाई देने के बाद अपने भोजन में अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट का सेवन करना शुगर के मरीज के लिए नुकसान दायक हो सकता है। ऐसे में आपको बता दे की अगर आप अपने सुबह के भोजन में एक ग्लास दूध (छोटा ग्लास या बड़ा ग्लास ) भी पीते हैं तो इससे आपको लगभग 15 से 27 ग्राम कार्बोहाइड्रेट्स मिलता है। जो की एक शुगर के मरीज के लिए कार्बोहाइड्रेट की तय मात्रा के अंदर ही है यानि की (शुगर ) डायबिटीज में दूध पी सकते हैं लेकिन सिमित मात्रा में।
  2. शुगर के मरीज को पता होना चाहिए की क्या दूध पीने के बाद उसका ब्लड शुगर लेवल बढ़ता है या नहीं ? क्योकि हर व्यक्ति का शरीर अलग-२ औषधियों, खानपान की वस्तुओ पर अलग तरीके से प्रभावित होता है। और इस सवाल का जवाब जानने के लिए सबसे अच्छा तरीका यह है कि दूध का सेवन करने से पहले और लगभग 30 मिनट बाद अपने रक्त शर्करा के स्तर की जांच करें।
शुगर में दूध पी सकते हैं या नहीं

जैसा कि आपने अनुमान लगा ही लिया होगा की शुगर में दूध पी सकते हैं पर तभी जब दूध का सेवन करने के बाद आपके रक्त शर्करा का स्तर में बहुत अधिक बढ़ोतरी न हो।

शुगर में दूध पीने के फायदे

  • इतना ही नहीं दूध पीने से मिलने वाले फायदों के कारण दूध पीना शुगर के मरीज के लिए काफी फायदेमंद होता है।
  • दूध मे पाए जाने वाले प्रोटीन, कॅल्शियम और विटामिन बी 12 शरीर के लिए बहुत ही आवश्यक होते है।
  • शुगर के वे मरीज जो शाकाहारी होते है उनके स्वास्थ्य के लिए तो दूध पीना और भी अच्छा होता है।
  • मधुमेह यानि शुगर का प्रभाव हमारे शरीर के सभी अंगो पर पड़ता है ऐसे में शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए शुगर में दूध पीना एक अच्छा उपाय है।
  • कब्ज को दूर करने में दूध एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाकर पाचन तंत्र को मजबूत बनता है।

शुगर रोगी दूध कितना पी सकते है ?

दूध में पाए जाने वाले कार्बोहाइड्रेट को ध्यान में रखते हुए मधुमेह यानि शुगर के मरीज़ के लिए रोजाना एक ग्लास दूध पीने काफी होता है। फिर भी आप चाहे तो अपने भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा को कम करके दूध को अधिक मात्रा में ले सकते है।

शुगर में हल्दी वाला दूध पी सकते हैं ?

  • रात को सोते समय सही तरीके से बनाया गया गरमा गर्म हल्दी वाला दूध पीना मधुमेह यानि शुगर के मरीज के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। सोते समय शरीर खुद को रीस्टोर कर रहा होता है।
  • शुगर के मरीज के लिए अच्छी नींद लेना बहुत ही आवश्यक होता है ऐसे में हल्दी वाला दूध आपको बेहतर नींद लाने में सहायक होता है।
  • इतना ही नहीं यह मधुमेह के कारण होने वाली सूजन को दूर करने में भी सहायक होता है।
  • हल्दी वाला दूध न सिर्फ हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है बल्कि यह शारीरिक क्रियाओ को मजबूत बनाने का कार्य भी करता है जिसके फलस्वरूप शरीर में इन्सुलिन के उत्पादन में वृद्धि होती है जिससे शुगर कण्ट्रोल में रखने में सहायता मिलती है।
  • हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन Blood Sugar को कम करने में सहायक हो सकता है।
  • हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन डायबिटीज के कारण होने वाले Liver Disorder को रोकने में भी सहायक होता है।
  • हल्दी में पाई जाने वाली एंटी-इंफ्लमैशन गन के कारण हल्दी वाला दूध डायबिटीज यानि शुगर के कारण शरीर में होने वाली सूजन और तनाव को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।
Disclaimer

आम || Aam ke fayde || Uses and Benefits of Mango in Hindi

अनार के फायदे और विभिन्न रोगो में प्रयोग की विधि की जानकारी

Ayurveda And Natural Health Tips