My Blogs, रोग

Diet For Low BP in Hindi

87 / 100

Diet For Low : आपका बीपी लो रहता है तो खाने में जरूर खाएं ये चीजें

 

 

What is low ?

आपके शरीर के लिए एक Normal reading आपके Medical History, आयु, सम्पूर्ण शरीर की स्थिति के आधार पर तय की जाती है |

आमतौर पर एक स्वस्थ व्यक्ति का 90/60 और 120/80 MM Hg के बीच होता है | लेकिन इससे कम होने पर इस स्थिति को निम्न रक्तचाप, या हाइपोटेंशन भी कहा जाता है |

Low क्यों होता है?

ब्लड प्रेशर यानी रक्त प्रवाह कम रहने की समस्या उन लोगों को बहुत आसानी से अपना शिकार बना सकती है, जो अपने खान पान का सही से ध्यान नहीं रखते, वक़्त पर खाना नहीं खाते, डायट में पूरे पोषण का ध्यान भी नहीं देते, फिजिकली कम Active रहते हैं और एक ही जगह बैठकर घंटों काम करते रहते हैं।

इसके साथ ही अनियमित डायट लेते हैं और low blood sugar, थायराइड , दिल की बीमारी, खून की कमी और तनाव आदि जैसी परेशानिया भी ब्लड प्रेशर के लौ होने का कारण बनती हैं। 

 

Low के लक्षण || What is low

  • कमजोरी महसूस होने,
  • थकान रहने की शिकायत,
  • धुंधली नज़र,
  • ध्यान केंद्रित करने में भ्रम या परेशानी होना,
  • सिर चकराना,
  • बेहोशी,
  • उलटी अथवा मितली,
  • दुर्बलता,
  • नाड़ी का तेज चलना,
  • हल्की सांस लेना,
  • ठंडी या रूखी त्वचा

Low के लक्षण है |

Low है तो इन्हे करें अपने भोजन में शामिल || Diet For Low

सोडियम युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करे Low को कण्ट्रोल  || Diet For Low

लो बीपी की समस्या से बचने के लिए आपको अपने भोजन में नियमित रूप से उन फलों, सब्जियों और अनाज को शामिल करना चाहिए, जिनमें प्राकृतिक रूप से सोडियम की सीमित मात्रा उपलब्ध रहती है। जैसे :- 

ऑलिव्स 

ऑलिव में प्राकृतिक रूप से सोडियम होता है। इस फैमिली के अन्य फल, सब्जियों का भी आप सेवन कर सकते हैं। जैसे, करौंदा, लसौड़ा, नाशपाती, अमरस इत्यादि। इसके साथ ही आप अपने भोजन को तैयार करने में ऑलिव ऑइल का उपयोग करें।

अधिक नमक का प्रयोग

विशेषज्ञ आमतौर पर आपके आहार में नमक को सीमित करने की सलाह देते हैं क्योंकि सोडियम को बढ़ा सकता है, लेकिन अगर आपका Low रहता है तो आप अधिक नमक का प्रयोग करें | 

उच्च नमक वाले खाद्य पदार्थ आपके रक्तचाप को बढ़ा सकते हैं। नमक के अच्छे स्रोतों में जैतून, पनीर, और डिब्बाबंद सूप या टूना शामिल हैं। आप अपनी पसंद के आधार पर अपने भोजन में टेबल नमक या समुद्री नमक भी मिला सकते हैं।

अचार, चटनी खाएं

भोजन में तरह-तरह के घर पर तैयार अचार, हरा धनिया, पुदीना और प्याज से तैयार चटनी, कॉटेज चीज, कैंन्ड सूप इत्यादि को अपनी डेली डायट का हिस्सा बनाने से आपको लाभ होगा।

 

अधिक मात्रा में तरल पदार्थ पीये || Diet For Low

तरल पदार्थ रक्त की मात्रा को बढ़ाते हैं और निर्जलीकरण को रोकने में मदद करते हैं, ये दोनों हाइपोटेंशन के इलाज में महत्वपूर्ण हैं।अधिकांश डॉक्टर रोजाना कम से कम 2 लीटर (लगभग 8 गिलास) पानी पीने की सलाह देते हैं। पानी पीने की मात्रा इस बात पर निर्भर करती है की दिनभर में आपकी कितनी फिजिकल एक्टिविटी होती है जैसे :-  आपके पानी का सेवन गर्म मौसम में या व्यायाम करते समय अधिक होना चाहिए।

 


लिकोरिस-टी ( Licorice Tea )

लिकोरिस चाय में ऐंटिइंफ्लामेट्री और हानिकारक फ्री रेडिकल्स को खत्म करनेवाले गुण पाए जाते हैं। ब्लड प्रेशर को सही रखने के साथ ही यह लिकोरिस चाय आपके पेट और पाचनतंत्र को भी सही रखने का काम करती है। कब्ज जो की बहुत सी बीमारीओं की जड़ है यह उसे दूर कर आपकी स्फूर्ति और ताजगी बढ़ती को है, और ब्लड प्रेशर को सही रखने में मददगार होती है ।

 


कॉफी का सेवन करें || Diet For Low

जिन लोगों को Low BP की शिकायत रहती है, उन्हें कॉफी या कैफीनयुक्त चाय  का सेवन करने से लाभ हो सकता है। आप चाहें तो मिल्क कॉफी या चाहें तो ब्लैक कॉफी किसी का भी सेवन करें। कॉफी और कैफीनयुक्त चाय जैसे पेय हृदय गति में वृद्धि और ब्लड प्रेशर में अस्थायी वृद्धि का कारण बनते हैं।

यह प्रभाव आमतौर पर बहुत कम समय के लिए होता है, और कैफीन का सेवन हर किसी के ब्लड प्रेशर को समान रूप से प्रभावित नहीं करता है। 

Diet For Low BP in Hindi

 

विटामिन B12 युक्त खाद्य पदार्थो का सेवन करे || Diet For Low BP

विटामिन बी 12 शरीर को स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस महत्वपूर्ण विटामिन की कमी से एनीमिया हो सकता है, जो ब्लड प्रेशर के कम होने और थकान का कारण बनता है। विटामिन बी 12 से भरपूर खाद्य पदार्थों में अंडे, चिकन, मछली जैसे सामन और टूना और कम वसा वाले डेयरी उत्पाद शामिल हैं।

केला और कीवी जैसे फलों का उपयोग करने पर हावी नहीं हो पाएगा कोई रोग

आप अपने खान पान में रोजाना केला और कीवी जैसे फलों का सेवन अवश्य करें। क्योंकि केला आपके शरीर को आयरन और फॉस्फोरस जैसे जरूरी पोषक तत्व प्रदान करता है। इससे आपके शरीर में रक्त का प्रवाह ठीक से बना रहेगा। वहीं, कीवी का सेवन आपके शरीर को विटमिन-सी और ई जैसे जरूरी विटमिन्स देगा। जो आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायता करेंगे और खून की कमी के चलते कोई रोग जल्दी से आपके शरीर पर हावी नहीं हो पाएगा।

कब्ज दूर करने के 12 घरेलु उपाय 

Hypotension

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *