काली तुलसी के फायदे

तुलसी एक पवित्र पौधा है जिसे घर पर लगाना शुभ माना जाता है। इतना ही नहीं तुलसी स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। तुलसी कई प्रकार की होती है जिनमे राम तुलसी और श्यामा तुलसी यानि काली तुलसी अधिक प्रचलित है। राम तुलसी यानि हलके हरे रंग की तुलसी का प्रयोग पूजा पाठ में अधिक किया जाता है, वहीँ श्यामा तुलसी यानि काली तुलसी स्वास्थ्य के लिए अधिक फायदेमंद होती है। इस लेख में हम आपको रामा तुलसी और श्यामा तुलसी में अंतर (Rama Tulsi or Shyama Tulsi me Anter) और श्यामा तुलसी यानि काली तुलसी के फायदे (Kali Tulsi ke Fayde) की जानकारी देने जा रहे है।

घरेलु उपचार के रूप में काली तुलसी के फायदे अद्भुत है। श्याम तुलसी यानि काली तुलसी में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-ट्यूबरक्लोसिस गुण मौजूद होते है और यह शरीर की इम्युनिटी पावर को बढ़ाने, शरीर में मौजूद विषैले पदार्थो के साथ-2 गैस, टयूमर का नाश करने में सहायक होती है। मलेरिया बुखार, डेंगू, कोरोना, कॉलरा, उलटी, कान का दर्द, डायबिटीज, ल्यूकोडर्मा, दांत का दर्द, कफ की समस्या, फेफड़े के रोग जैसे ब्रोंकाइटिस, अस्थमा आदि के इलाज में भी फायदेमंद होती है।

श्यामा तुलसी | काली तुलसी

रामा तुलसी और श्यामा तुलसी में अंतर

तुलसी कई प्रकार की होती है। जिनमे से रामा तुलसी और श्यामा तुलसी जिसे काली तुलसी या कृष्ण तुलसी भी कहा जाता है, अधिक प्रचलित है। आइये जानते है की श्यामा तुलसी की पहचान कैसे करें ? श्याम तुलसी और राम तुलसी के पौधे में क्या अंतर होता है ? और काली तुलसी के फायदे (Kali Tulsi ke Fayde) क्या है ?

तुलसी का अर्क व उसके चमत्कारिक फायदे

श्यामा तुलसी की पहचान कैसे करें ?

  • राम तुलसी और श्याम तुलसी के पोधो में काफी फर्क होता है। श्याम तुलसी की पत्तिया जामुनी कलर की होती है। वहीँ राम तुलसी की पत्तिया हल्के हरे रंग की होती है।
  • श्याम तुलसी की टहनिया भी जमुनी रंग की होती है जबकि राम तुलसी की टहनिया सफ़ेद रंग की होती है।
  • शयाम तुलसी का पौधा राम तुलसी के पौधे के मुकाबले थोड़ा अधिक बड़ा होता है।
  • श्याम तुलसी की पत्तिया काफी छोटी होती है जबकि राम तुलसी की पत्तिया श्याम तुलसी की पत्तियों के मुकाबले अधिक बड़ी होती है।
  • श्याम तुलसी राम तुलसी की मुकाबले स्वास्थ्य के लिए अधिक फायदेमंद होती है।

रामा तुलसी और श्यामा तुलसी में अंतर | श्याम तुलसी और राम तुलसी के पौधे में क्या अंतर होता है ?

रामा तुलसी श्यामा तुलसी
1.रामा तुलसी के पत्ते हल्के हरे रंग के होते हैं |श्याम तुलसी के पत्ते जामुनी रंग की होती है |
2.रामा तुलसी की टहनिया सफ़ेद रंग की होती है।श्यामा तुलसी की टहनिया जमुनी रंग की होती है।
3.रामा तुलसी का पूजा आदि में अधिक प्रयोग होता है |श्यामा तुलसी को स्वास्थ्य के लिए अधिक फायदेमंद माना जाता है।
4.राम तुलसी का बोटैनिकल नाम Ocimum sanctum है |श्यामा तुलसी का बोटैनिकल नाम Ocimum Tenuiflorum है |
5.रामा तुलसी का स्वाद कुछ हल्का होता है।श्याम तुलसी का स्वाद अधिक तेज (Crisp & peppery) और गर्म महसूस होता है |
6.हरे पत्तों वाली राम तुलसी बच्चों के लिए फायदेमंद होती हैजामुनी रंग वाली श्यामा तुलसी जवान और बड़े उम्र लोगों के लिए अधिक फायदेमंद होती है.

काली तुलसी के फायदे | Kali Tulsi ke Fayde

काली तुलसी के फायदे

काली तुलसी जिसे श्यामा तुलसी या कृष्ण तुलसी के नाम से भी जाना जाता है, स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर होती है। अनेको रोगो को दूर करने और उनसे बचाव करने में सहायक होती है काली तुलसी। आइये जानते है काली तुलसी के गुण, काली तुलसी के फायदे।

कब्ज को दूर करने के लिए त्रिफला का उपयोग कैसे करे?

  • इम्युनिटी पावर बढ़ाये – काली तुलसी का सेवन करने से शरीर की इम्युनिटी पावर को बूस्ट करने में सहायता मिलती है। इसके सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़कर बहुत से रोगो को दूर रखा जा सकता है।
  • बुखार ठीक करे – श्याम तुलसी यानि काली तुलसी के 8-10 पत्तो और गुड़ को पानी में मिलाकर, इसका काढ़ा बनाकर सेवन करने से किसी भी तरह के बुखार को ठीक हो जाता है। मलेरिया, डेंगू आदि बुखार में भी फायदेमंद होता है काली तुलसी का काढ़ा। कुछ लोगो ने इसे कोरोना में भी फायदेमंद पाया है।
  • स्टैमिना बढ़ाने में सहायक – काली तुलसी यानि श्याम तुलसी में पाए जाने वाले गुणों के कारण, यह मेटाबोलिज्म को सही रखकर, शरीर के कार्यो में सुधर करती है और शरीर के स्टैमिना को बढ़ाने में फायदेमंद होती है।
  • आँखों के लिए फायदेमंद – काली तुलसी या कृष्ण तुलसी आँखों के लिए भी फायदेमंद होती है। इसके पत्तों का रस को पानी में मिलाकर, इस पानी से ऑंखें धोने से आँखों की रौशनी तेज होती है।
  • महिलाओं के लिए काली तुलसी के फायदे – महिलाओ की बीमारी ल्यूकोरिया में श्याम तुलसी यानि काली तुलसी के सेवन से फायदा मिलता है। काली तुलसी को पीसकर, पैन में मिलाकर, इसका सेवन करने से मासिक स्राव या पीरियड में ब्लड ज्यादा आने की समस्या में फायदा मिलता है।
  • पेशाब की समस्या – कृष्ण तुलसी यानि काली तुलसी के रस को पीने से पेशाब करने में होने वाली समस्याएं जैसे पेशाब खुलकर न आना या बूँद-बूँद करके पेशाब आना, में फायदा मिलता है।
  • मानसिक तनाव और एलर्जी से राहत दिलाये काली तुलसी – कृष्ण तुलसी यानि काली तुलसी (Kali Tulsi) के रस के सेवन से सभी प्रकार की एलर्जी की समस्याओ में रहत मिलती है। यह इसके सेवन से मानसिक समस्याएं जैसे तनाव, टेंशन या स्ट्रेस दूर करने में सहायता मिलती है।
  • बदलते मौसम की समस्याओ में फायदेमंद – मौसम में बदलाव खांसी, जुकाम और बुखार जैसे अनेक समस्याओ का कारण बन सकता है। बदलते मौसम से होने वाली समस्याओ को ठीक करने में सहायक होती है काली तुलसी। काली तुलसी की चाय का सेवन करने से इन समस्याओ में काफी आराम मिलता है।
  • बालों के लिए फायदेमंद कृष्ण तुलसी – बालों में डैंड्रफ की समस्या में काली तुलसी काफी फायदेमंद होती है। डेंड्रफ दूर करने के लिए काली तुलसी या कृष्ण तुलसी के पत्तो को पीसकर, उनकी चटनी बनाकर, बालों की जड़ों में लगाने और आधे घंटे बाद धो लेने से फायदा मिलता है।
  • बच्चो के पेट के कीड़े की समस्या में फायदेमंद – बच्चों के पेट में कीड़े हो तो घबराने के बात नहीं है, घर पर लगी श्यामा तुलसी (Kali Tulsi) का रस निकलकर, उसमे सौंफ या पुदीने के पत्तों का रस मिलाकर बच्चे को पिला दे। इसके सेवन से बहचको के पेट के कीड़े खत्म हो जायँगे।
  • किडनी स्टोन की समस्या में फायदेमंद – काली तुलसी किडनी की कार्य करने की क्षमता में सुधार करके, पेशाब के फ्लो को बनाये रखती है जिससे किडनी में स्टोन का निर्माण करने वाले तत्व जैसे यूरिक एसिड और खनिज, किडनी में इकठ्ठा ही नहीं हो पाते, जिससे किडनी में पथरी की समस्या पैदा ही नहीं होती और अगर हो गई हो तो वह भी धीरे-२ खत्म हो जाती है और पेशाब के रास्ते शरीर से बाहर निकाल दी जाती है।
  • त्वचा के लिए फायदेमंद काली तुलसी – त्वचा में होने वाली समस्याओं जैसे एलेर्जी, खुजली या दर्द आदि में काली तुलसी काफी फायदेमंद होती है।
Disclaimer

Specially For You :-

त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है
त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है
त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है (Triphala ki taseer kaisi hoti hai) - आयुर्वेदा की सबसे प्रसिद्ध औषधि है ...
Read More
साफी सिरप के फायदे और नुकसान
साफी सिरप के फायदे और नुकसान
साफी सिरप के फायदे और नुकसान (Safi Syrup Ke Fayde Or Nuksan) - साफी सिरप का उपयोग हमारे रक्त की अशुद्धियों ...
Read More
शुगर में अजवाइन के फायदे बताइये
शुगर में अजवाइन
डायबिटीज यानि शुगर में अजवाइन के फायदे बताइये (Sugar me ajwain ke fayde) - डायबिटीज यानि शुगर के मरीज की ...
Read More
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं (Bwasir Me Adrak Khana Chahiye Ya Nahi) - बवासीर से पीड़ित व्यक्ति को ...
Read More
हाई ब्लड प्रेशर में तुलसी के फायदे
ब्लड प्रेशर में तुलसी के फायदे
ब्लड प्रेशर में तुलसी (Blood Pressure Me Tulsi) - हाई ब्लड प्रेशर या हिपरटेंशन एक ऐसी समस्या है जिसका सीधा ...
Read More
शुगर में तुलसी के फायदे
शुगर में तुलसी के फायदे
शुगर में तुलसी के फायदे ( Sugar me Tulsi Ke Fayde ) - हिन्दू धर्म ग्रंथो में तुलसी के पौधे ...
Read More

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

कमर दर्द का इलाज

आम || Aam ke fayde || Uses and Benefits of Mango in Hindi

लहसुन के फायदे, विभिन्न रोगों में उपयोग की विधि | Uses and Health Benefits of Garlic in Hindi

अनार के फायदे और विभिन्न रोगो में प्रयोग की विधि की जानकारी

DMCA.com Protection Status