तुलसी का अर्क व उसके चमत्कारिक फायदे

तुलसी का अर्क | Tulsi ka Ark

तुलसी की पत्तियों से बना तुलसी अर्क ( Tulsi ka Ark ) सर्व रोग नाशक होता है इसमें तुलसी (Basil) के सभी के गुण मौजूद है जिन्हें आयुर्वेद में अमृत तुल्य कहा गया है | इसमें कोई हानिकारक तत्व नहीं होता | तुलसी अर्क (Tulsi Ark) में 70 से अधिक बीमारियों को दूर करने की शक्ति है | तुलसी एंटी ऑक्सीडेंट, एंटी एजिंग, एंटी बैक्टीरियल, एंटीवायरल, एंटीबायोटिक, और एंटी डिसीज़ है |

तुलसी का सबसे बड़ा अमूल्य गुण है तनाव को दूर करना | तुलसी अर्क (Tulsi Ark) ना केवल आपको तनाव और थकान से मुक्त होने में मदद करता है बल्कि इसमें बावजूद मौजूद तत्व शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को आश्चर्यजनक रूप से बढ़ा देते हैं |

तुलसी का अर्क or tulsi ka ark or tulsi ark benefits

सुबह-सुबह तुलसी के अर्क वाले पानी का नित्य सेवन आपके जीवन में एक क्रांतिकारी परिवर्तन ला कर आपको अनेक रोगों से केवल बचाता ही नहीं वरन रोग होने पर भी शरीर के इम्यून सिस्टम यानि प्रतिरक्षा प्रणाली को जागृत कर धीरे-धीरे रोगों से मुक्त करता है |

तुलसी अर्क (Tulsi Ark) मानव जीवन की लाल रक्त कण ( Hemaoglobin ) को बढ़ाने में अत्यंत सहायक है | यह त्वचा की सुंदरता को बढ़ाता है और त्वचा में निखार भी लाता है |

तुलसी अर्क (Tusli Arka) का सेवन मनुष्य के शरीर को सैकड़ों प्रकार की छोटी बड़ी बीमारियों जिसमें सिर दर्द, आम बुखार, जुकाम, सर्दी, कफ, नजला, श्वास के रोग, मलेरिया, ब्लड प्रेशर, तपेदिक, डायबिटिक, हृदय रोग, गठिया, अनिंद्रा, अपच, त्वचा के अनेक रोगों के साथ-साथ महिलाओं के कई प्रकार के रोगों के इलाज में भी बहुत अधिक लाभकारी है |

शहद कब और कैसे नहीं खाना चाहिए ?

सुबह-सुबह तुलसी के अर्क वाले पानी का नित्य सेवन करने के फायदे | Tulsi Ark Benefits | Tulsi Ark ke Fayde

  1. तुलसी अर्क (Tulsi ka Ark) के इस्तेमाल से वजन कम होता है | शरीर की चर्बी कम होती है, यदि वह दही या छाछ के साथ इस्तेमाल किया जाए तो, साथ ही थकान का अनुभव भी नहीं होता | दिनभर स्फूर्ति बनी रहती है | लाल रक्त कणो यानी हिमोग्लोबिन में वृद्धि होती है | परिणाम स्वरूप अन्य कोई रोग नहीं होता और रोगप्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है |
  2. तुलसी अर्क ब्लड कोलेस्ट्रॉल को बहुत तेजी से सामान्य बना देता है |
  3. तुलसी अर्क (Tulsi Ark) का प्रातकाल नियमित सेवन करने से बच्चों में बल, तेज और स्मरण शक्ति की वृद्धि होती है |
  4. तुलसी अर्क (Tulsi Arka) किडनी की कार्य शक्ति में वृद्धि करता है |
  5. तुलसी अर्क (Tulsi ka Ark) के नित्य सेवन से अपचन दूर होता है |
  6. कृष्ण तुलसीवृंदा तुलसी का अर्क कैंसर में अत्यंत लाभप्रद है |
  7. तुलसी अर्क (Tulsi Ark) में वात विकारों को दूर करने के गुण भी है |
  8. तुलसी अर्क में मूत्र पिंड की कार्य शक्ति को बढ़ाने के गुण भी है यानी यूरिन सिस्टम को ठीक करता है |
  9. तुलसी अर्क के सेवन से विटामिन और विटामिन बी की कमी दूर होती है |
  10. तुलसी अर्क में रक्त को साफ करने की गुण है
  11. तुलसी अर्क (Tulsi Ark) श्वसन तंत्र के रोगों में उत्तम प्रभाव दर्शाता है यह कफनाशक है तथा अस्थमा के रोगों की गुणकारी दवा भी है |
  12. तुलसी अर्क एक बूंद, शहद एक चम्मच इन दोनों को एक गिलास पानी में मिलाकर सुबह-शाम एक महीने तक पीने से आपका मोटापा कम हो जाएगा |
  13. तुलसी अर्क (Tulsi Arka) एक बूंद, चार दाने काली मिर्च के, 4 दाने बदाम, एक चम्मच शहद मिलाकर पीस कर पीने से समरन शक्ति में वृद्धि होती है |
  14. तुलसी अर्क का नियमित सेवन करने से वृद्ध व्यक्ति कमजोरी का अनुभव नहीं करते | वे शक्ति और उत्साह का अनुभव करते हैं | उनकी रोग निरोधक शक्ति बढ़ जाती है |
  15. तुलसी अर्क (Tulsi ka Ark) स्त्री व पुरुष तथा बच्चों तीनों के रोगों में समान रूप से लाभकारी है |

अलग-२ ऋतुओ में त्रिफला चूर्ण लेने की विधि और उसके फायदे | त्रिफला से कायाकल्प

रोग में तुलसी अर्क के उपयोग की विधि

  • सिर दर्द – शुद्ध नारियल के तेल में दो बूंद तुलसी का अर्क मिलाकर सिर में लगाने से सर दर्द में आराम मिलता है |
  • आम बुखार – आधे गिलास ठंडे पानी में दो बूंद अर्क डालकर दिन में 2 बार पीने से आराम मिलता है |
  • जुकाम, सर्दी, कफ, नजला – सुबह शाम एक गिलास गुनगुने पानी के साथ दो बूंद तुलसी का अर्क मिलाकर प्रयोग में लाए |
  • श्वास रोग – एक गिलास ठंडे पानी में दो बूंद तुलसी का अर्क डालकर दिन में तीन बार पीने से आराम मिलता है |
  • मलेरिया – आधा गिलास पानी में दो बूंद तुलसी का अर्क डालकर दो बार पिए |
  • पायरिया – 50 ग्राम नारियल के तेल में 25 बुंदे तुलसी अर्क मिलाकर दिन में तीन बार मसूड़ों पर मलने से पायरिया में आराम मिलता है |
  • त्वचा पर काले दाग – सुबह शाम तुलसी का रस और नींबू का रस साथ मिलाकर चेहरे पर घिसने से काले दाग दूर होते हैं और सुंदरता बढ़ती है |
  • ज्वर, खांसी, सांस के रोग – तुलसी का रस 3 ग्राम अदरक का रस 3 ग्राम और एक चम्मच शहद लेने से लाभ होता है | कफ निकल कर स्वास्थ ठीक हो जाता है |

तुलसी अर्क का सेवन करते हुए बरते ये सावधानियां

  1. तुलसी के अर्क का इस्तेमाल करने के बाद 1 घंटे तक दूध नहीं पीना चाहिए |
  2. पहले 2 माह में गर्भवती महिला को तुलसी का अर्क ना दें |

धन्यवाद

Disclaimer

Our YouTube Channel is -> A & N Health Care in Hindi
https://www.youtube.com/channel/UCeLxNLa5_FnnMlpqZVIgnQA/videos

Join Our Facebook Group:- Ayurveda & Natural Health Care in Hindi —-
https://www.facebook.com/groups/1605667679726823/

Specially For You :-

त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है
त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है
त्रिफला चूर्ण की तासीर कैसी होती है (Triphala ki taseer kaisi hoti hai) - आयुर्वेदा की सबसे प्रसिद्ध औषधि है ...
Read More
साफी सिरप के फायदे और नुकसान
साफी सिरप के फायदे और नुकसान
साफी सिरप के फायदे और नुकसान (Safi Syrup Ke Fayde Or Nuksan) - साफी सिरप का उपयोग हमारे रक्त की अशुद्धियों ...
Read More
शुगर में अजवाइन के फायदे बताइये
शुगर में अजवाइन
डायबिटीज यानि शुगर में अजवाइन के फायदे बताइये (Sugar me ajwain ke fayde) - डायबिटीज यानि शुगर के मरीज की ...
Read More
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं
बवासीर में अदरक खाना चाहिए या नहीं (Bwasir Me Adrak Khana Chahiye Ya Nahi) - बवासीर से पीड़ित व्यक्ति को ...
Read More
हाई ब्लड प्रेशर में तुलसी के फायदे
ब्लड प्रेशर में तुलसी के फायदे
ब्लड प्रेशर में तुलसी (Blood Pressure Me Tulsi) - हाई ब्लड प्रेशर या हिपरटेंशन एक ऐसी समस्या है जिसका सीधा ...
Read More
शुगर में तुलसी के फायदे
शुगर में तुलसी के फायदे
शुगर में तुलसी के फायदे ( Sugar me Tulsi Ke Fayde ) - हिन्दू धर्म ग्रंथो में तुलसी के पौधे ...
Read More

पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

कमर दर्द का इलाज

आम || Aam ke fayde || Uses and Benefits of Mango in Hindi

लहसुन के फायदे, विभिन्न रोगों में उपयोग की विधि | Uses and Health Benefits of Garlic in Hindi

अनार के फायदे और विभिन्न रोगो में प्रयोग की विधि की जानकारी

DMCA.com Protection Status